Army

LoC की अग्रिम चौकियों पर पाकिस्तान से फिर फायरिंग

एलओसी-पर-फायरिंग

जम्मू। पाकिस्तानी सेना जम्मू संभाग में लगातार गोलीबारी जारी रखे हुए है। इसी क्रम में जम्मू संभाग के बालाकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा की अग्रिम चौकियों को पाक सैनिकों ने निशाना बना गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। मंगलवार देर रात पाक सेना ने पुंछ जिले के बालाकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा की अग्रिम चौकियों तथा रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर गोलीबारी की। यह गोलीबारी लगभग 2 घंटे तक चली। भारतीय जवानों ने भी इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। इस गोलीबारी में किसी प्रकार के नुकसान की कोई खबर नहीं है।





बताते चलें कि मंगलवार की ही शाम को पाक सेना ने नौशेरा सेक्टर में साढ़े छह बजे अंधाधुंध छोटे हथियारों व स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की। इसके अलावा 82 एमएम और 120 एमएम के मोर्टार दागे। यह गोलीबारी रात 9 बजे तक चली।

राजौरी के डिप्टी कमिश्नर शाहिद इकबाल चौधरी ने बताया कि पाकिस्तान ने मंगलवार रात 10:55 बजे राजौरी के नौशेरा के बंधहार में गोलीबारी शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि मंगलवार को पाकिस्तानी सेना ने एलओसी से सटे नौशेरा सेक्टर पर गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी गोलीबारी की चपेट में एलओसी से सटे नौशेरा के चार गांव हैं। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन इस घटना में हुए नुकसान का आकलन रिपोर्ट सौंपेगी।

कश्मीरी-आवास

पाकिस्तानी गोलीबारी और फायरिंग से 10 हजार से ज्यादा लोग प्रभावित, गांवों से दूसरी जगह शिफ्ट हुए (फाइल फोटो)

इससे पहले 13 मई को पाकिस्तानी सेना ने नौशेरा में भारतीय चौकियों और रिहायशी इलाकों पर मोर्टार दागे थे। जिसमें दो नागरिकों की मौत हो गई थी, जबकि तीन जख्मी हो गए थे। पिछले एक हफ्ते से पाकिस्तान की ओर से एलओसी और अंतर्राष्ट्रीय सीमा से सटे राजौरी और जम्मू जिले में गोलीबारी जारी है। हाल ही में PAK की गोलीबारी में नौशेरा में एक महिला की मौत हो गई थी, जबकि उसके पति समेत दो लोग जख्मी हो गए थे।

हाल में पाकिस्तानी सेना की ओर से भारतीय जवानों के शव से बर्बरता किए जाने और जाधव मामले को लेकर सीमा पर तनाव गहरा गया है। पाकिस्तानी गोलीबारी और फायरिंग के मद्देनजर जम्मू एवं कश्मीर के राजौरी जिले के करीब 1,700 लोगों को इलाके से हटाना पड़ा है। पाकिस्तानी सेना ने एलओसी से सटे राजौरी जिले में रातभर गोले दागे। पाकिस्तानी गोलीबारी और फायरिंग से 10 हजार से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं।

Comments

Most Popular

To Top