Army

आर्मी डे: सेना प्रमुख ने कहा, ‘आतंक से निपटने के लिए सेना के आलावा दूसरे विकल्प भी मौजूद’

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

नई दिल्ली। सेना दिवस पर सैन्यकर्मियों को संबोधित करते हुए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि सेना जम्मू-कश्मीर घाटी में भारत के खिलाफ की जाने वाली गतिविधियों को किसी भी कीमत पर सफल नहीं होने देगी। इस मौके पर उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि उत्तरी चीन सीमा पर वास्तविक नियंत्रण रेखा पर विवाद जारी हैं और अतिक्रमण हो रहे हैं। हम उन्हें भी रोकने की दिशा में काम कर रहे हैं।





सेना प्रमुख ने पाक समर्थित आतंकवाद के खिलाफ भी सख्त प्रतिक्रिया की चेतावनी देते हुए कहा है कि पाक सेना जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (LOC) के रास्ते भारत में आतंकियों की घुसपैठ में लगातार मदद कर रही है। उन्हें सबक सिखाने के लिए हमारे सैन्यकर्मी अपने पराक्रम का इस्तेमाल कर रहे हैं।’ यदि हमें किसी बात के लिए मजबूर किया गया तो आक्रामक सैन्य कार्रवाई बढ़ाने के साथ-साथ दुश्मन के खिलाफ दूसरे विकल्पों की मदद भी ले सकते हैं।

सेना दिवस पर प्रधानमंत्री ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 70वें सेना दिवस पर अपनी शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने अपने संदेश में कहा ‘सेना दिवस पर मैं जवानों, सेवानिवृत्त जवानों और उनके परिवार को शुभकामनाएं व्यक्त करता हूं। देश के प्रत्येक नागरिक को सेना के प्रति अटल विश्वास और गर्व है जो देश की रक्षा करती है और प्राकृतिक आपदाओं एवं अन्य दुर्घटनाओं के समय के दौरान मानवीय प्रयासों के साथ अग्रसर रहती है। सेना ने हमेशा देश को प्राथमिकता दी है। मैं उन सभी महान व्यक्तियों को सलाम करता हूं, जिन्होंने देश की सेवा करते हुए अपने प्राणों का बलिदान दिया। भारत अपने शूरवीर नायकों को कभी नहीं भूलेगा।’

 

Comments

Most Popular

To Top