Army

देश के युवाओं से सेना में शामिल होने की आर्मी चीफ ने की अपील

असम और अरुणाचल के छात्र

नई दिल्ली। आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने भारत की एकता के विचार को महसूस करने के मकसद से युवाओं से सेना में भर्ती होने की अपील की है, जिसमें कहा है कि लोगों को छोटी-छोटी पहचान तक नहीं सीमित रहना चाहिए, बल्कि एकजुटता देखाते हुए आगे बढ़ना चाहिए। सेना प्रमुख ने कहा कि अगर आप एकजुटता महसूस करना चाहते हैं तो थल सेना में शामिल होइए और देखिए कि कैसे विभिन्न हिस्सों से आए हमलोग भारतीय के तौर पर साथ-साथ रहते हैं। यह याद रखें कि सबसे पहले हम सभी भारतीय हैं।





उन्होंने कहा कि हमें इस बात पर गर्व है और सबसे पहले देश जरूर आना चाहिए। फिर हम एक साथ रहना सीख सकते हैं। उन्होंने कहा कि हम भारतीय हैं और हम खुद को बंगाली या असमी या अरुणाचली नहीं पुकारते। रावत असम और अरुणाचल प्रदेश के 27 युवाओं से बात कर रहे थे, जो राष्ट्रीय एकीकरण यात्रा के तहत नई दिल्ली में ही हैं। उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मुलाकात की।

मीडिया से बात करते हुए सेना प्रमुख ने कहा कि अगर उग्रवाद से कोई क्षेत्र प्रभावित होगा तो विकास नहीं हो सकता। उन्होंने भारतीय युवाओं से कड़ी मेहनत करने और शिक्षक, इंजीनियर और डॉक्टर बन कर राष्ट्र निर्माण प्रक्रिया में योगदान देने की अपील की। उन्होंने कहा कि फिर अपने गांव जाइये और उनकी सेवा कीजिए। असम में कई अच्छे स्कूल हैं तो शिक्षक नदारद और अस्पताल हैं तो प्रयाप्त डॉक्टर्स नहीं। थल सेना के ऑफिसर ने बताया कि इन 27 युवकों में 25 असम से हैं जबकि बाकि दो अरुणाचल से हैं।

Comments

Most Popular

To Top