Air Force

वायुसेना के गोल्डन जुबली इंस्टीट्यूट के वार्षिक समारोह में नृत्य नाटिका का मंचन

वायुसेना गोल्डन जुबली इंस्टीट्यूट

नई दिल्ली। सुब्रत पार्क स्थित वायुसेना गोल्डन जुबली इंस्टीट्यूट ने ‘रसतरंगिणी’ थीम पर अपना 33वां वार्षिक दिवस मनाया। इस कार्यक्रम का शुभारंभ समारोह के मुख्य अतिथि विशिष्ट सेवा पदक, भारतीय वायुसेना में एयर ऑफिसर- इनचार्ज एडमिशिट्रेशन, एयर मार्शल पी.पी बापट और उनकी पत्नी स्मिता बापट ने दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया। इस अवसर पर एयर कमोडोर एम. मोहनता व श्रीमती बंदिता मोहनता, विंग कमांडर मधु सेंगर, कार्यकारी निदेशक और प्रधानाचार्य, श्रीमती पूनम एस रामपाल भी उपस्थित थी।





स्कूल के हेड बॉय एरिक चोपड़ा ने स्वागत भाषण दिया। ‘दुनिया में शांति और स्थिरता के लिए सर्वशक्तिमान ईश्वर के आहवान के साथ प्रार्थना का आयोजन किया गया। समाज में प्रचलित बुराइयों को समाप्त करने के लिए शांति और सद्भाव की अपील के साथ ‘Ekyataan’  के प्रतिभाशाली कलाकारों ने अपनी शानदार प्रस्तृति दी। प्रधानाचार्य पूनम एस रामपाल और छात्रों ने स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की। स्कूल की उपलब्धियों और प्रगति पर भी शानदार प्रस्तुति की गई। कार्यक्रम के दौरान यह गौरव का क्षण था जब अनुकरणीय उपलब्धियों के लिए तीनों विंगो के उपलब्धिकर्ताओं को पुरस्कार प्रदान किये गये।

इस अवसर पर एक अद्भुत नायक, मार्गदर्शक और उद्धारकर्ता भगवान कृष्ण के जीवन पर आधारित नृत्य-नाटिका ‘रसतरंगिणी’ की भावपूर्ण प्रस्तुति के साथ-साथ उनके जीवन पर आधारित रंगोली और चित्रों को भी सजाया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि ने दर्शकों को संबोधित करते हुए कार्यक्रम की सफलता के लिए कर्मचारियों और 350 से अधिक छात्रों के प्रयासों की सराहना की। कार्यक्रम का समापन स्कूल हेड गर्ल शैफाली अरोड़ा के धन्यवाद प्रस्ताव के साथ हुआ।

 

Comments

Most Popular

To Top