Air Force

स्पेशल रिपोर्ट: भारतीय पायलट अभिनंदन को बिना शर्त रिहा करे पाकिस्तान

भारतीय पायलट अभिनंदन

नई दिल्ली। पाकिस्तानी सेना द्वारा  27 फरवरी को हिरासत में लिये गए भारतीय लड़ाकू पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को रिहा करने के लिये भारत पाकिस्तान के साथ कोई समझौता नहीं करेगा।  सूत्र ने कहा कि हम अभिनंदन वर्धमान के लिये किसी तरह की काउंसेलर सम्पर्क की मांग नहीं कर रहे। पाकिस्तान उन्हें फौरन भारत को लौटाए।





पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बातचीत की पेशकश के बारे में पूछे जाने पर यहां सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान को पहले बातचीत का माहौल बनाना होगा। इसके लिये पाकिस्तान को आतंकवादी गुटों के खिलाफ दिखाई पड़ने  वाली भरोसेमेंद कार्रवाई करनी होगी।

यहां विश्वस्त राजनयिक सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान बिना शर्त  विगं कमांडर अभिनंदन वर्धमान को भारत को लौटाए। सूत्रों ने कहा कि भारत के साथ तनाव भड़काने के लिये  पाकिस्तान बार बार झूठ बोल रहा है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को बरगला रहा है।

गौरतलब है कि बुधवार को जम्मू-कश्मीर की नियंत्रण रेखा का उल्लंघन करते हुए जब पाकिस्तानी वायुसेना के करीब 10 लड़ाकू विमान भारत में घुस आए थे तब उन्हें वापस खदेड़ने के लिये भारतीय वायुसेना के हवाई सुरक्षा मिग-21 लड़ाकू विमानों ने जवाबी कार्रवाई की। इस कार्रवाई में पाकिस्तानी वायुसेना का एफ- 16 लड़ाकू विमान ध्वस्त हो गया और वह नियंत्रण रेखा पार  गिरा।

इसी दौरान भारतीय वायुसेना का मिग-21 विमान भी पाकिस्तानी वायुसेना की कार्रवाई का शिकार हुआ और इसके पायलट अभिनंदन वर्धमान को विमान से कूदना पड़ा। वह पाकिस्तानी इलाके में उतरे जहां स्थानीय लोगों ने उनके साथ मारपीट की और  पुलिस को सौंपा।

 भारत ने पाकिस्तान को सख्त चेतावनी दी है कि विंग कमांडर वर्धमान के साथ किसी भी तरह का अमानवीय बर्ताव न किया जाए।

 भारतीय़ अधिकारियों ने पाकिस्तान से यह भी कहा है कि  अपने इलाके में भारत विरोधी आतंकवादी ढांचे को तुरंत ध्वस्त करे और भारत के साथ बातचीत का माहौल बनाए।

एक सूत्र ने कहा कि पाकिस्तान के अधिकारी कई तरह के झूठे  बयान दे रहा है। पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को झूठा बताया कि भारतीय नौसैनिक पोत कराची की ओर बढ़ रहे हैं और भारत पाकिस्तान के इलाके में मिसाइली हमला करने जा रहा है।

उलटे पाकिस्तान ने अपने नभक्षेत्र को यात्री विमानों की उड़ानों के लिये बंद करने का ऐलान किया और भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन बंद कर यह संदेश दिया है कि वह युद्ध की तैयारी कर रहा है। दूसरी ओर भारत ने ऐसा कोई कदम नहीं उठाया।

भारत ने केवल आतंकवादी ठिकानों पर गैर सैनिक कार्रवाई की जब कि पाकिस्तान ने अपने लडाकू विमानों को भारत के सैन्य ठिकानों पर हमला के इरादे से भेजा।

Comments

Most Popular

To Top