Air Force

इस तरह ‘रॉयल’ बाहर हुआ इंडियन एयरफोर्स से

सिद्धांत: नभ: स्पृशं दीप्तम्





आदर्श वाक्य: 1,50,000 सैनिक और 1,350 विमान

मुख्यालय: नई दिल्ली

भारतीय वायुसेना (इंडियन एयर फोर्स) भारतीय सशस्त्र सेना का एक अहम अंग है। IAF की स्थापना वैसे तो वर्ष 1932 में की गई थी। तब इसका नाम ‘रॉयल इंडियन एयरफोर्स’ था। देश में गणतंत्र स्थापित होने के बाद मतलब 1950 में इसके नाम से ‘रॉयल’ शब्द हटा दिया गया और इसे सिर्फ ‘इंडियन एयर फोर्स (IAF)’ कर दिया गया। IAF ने वर्ष 1945 के द्वितीय विश्व युद्ध में अहम भूमिका निभाई थी।

इतना ही नहीं IAF देश की आजादी के बाद पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के साथ चार युद्धों और चीन के साथ एक लड़ाई में अपना योगदान दे चुकी है। IAF कई बड़े मिशनों को अंजाम दे चुकी है।

विशेष क्षेत्र: IAF वायु युद्ध, वायु सुरक्षा, एवं वायु चौकसी का महत्वपूर्ण काम देश के लिए करती है।

मुख्य ऑपरेशन: ऑपरेशन विजय-गोवा का अधिग्रहण, ऑपरेशन मेघदूत, ऑपरेशन कैक्टस, ऑपरेशन पुमलाई के अलावा संयुक्त राष्ट्र के शांति मिशन का भी सक्रिय हिस्सा रही है। ये सारे मिशन देश की आजादी के बाद के हैं।

Comments

Most Popular

To Top