Air Force

बालाकोट में भारतीय वायुसेना ने जैश के 6 में से 5 ठिकाने नष्ट किए थे: रिपोर्ट

भारतीय वायुसेना का अभ्यास
फाइल फोटो

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने कहा है कि बालाकोट में 26 जनवरी को हुई एयर स्ट्राइक में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 06 में से 05 ठिकानों को निशाना बनाया गया है। वायुसेना ने यह भी कहा है कि अगर उसके उच्च स्तरीय तकनीकी विविधता होती तो पाकिस्तान को उसके 27 फरवरी के हवाई हमले के दुस्साहस के दौरान ज्यादा नुकसान पहुंचाया जा सकता था। भारतीय वायुसेना ने बालाकोट एयर स्ट्राइक की समीक्षा रिपोर्ट में ये बातें कहीं हैं।





रिपोर्ट में कहा गया है कि बालाकोट में हमले के लिए 06 इजराइली स्पाइस- 2000 पेनट्रेटर पीजीएम का इस्तेमाल हुआ था। इन 06 पीजीएम ने जैश के आतंकी कॉम्प्लेक्स में पांच ठिकानों को निशाना बनाया था। लेकिन एक पीजीएम मिराज 2000 से अलग न हो सका जिस कारण उसका निशाना चुक गया।

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की सतर्क वायुसेना को धोका देने के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों से कई लड़ाकू विमान भेजे गए थे। जगुआर को पाकिस्तान के प्रमुख वायुसेना स्टेशन की तरफ भेजा गया भारत की यह चाल सफल रही और पाकिस्तान भारत की एयर स्ट्राइक को पकड़ नहीं सका।

भारतीय वायुसेना की इस समीक्षा रिपोर्ट में हमलों की ताकत कमजोरी और इससे सेना ने क्या सीखा सके बारे में पूरी जानकारी दी गई है।

Comments

Most Popular

To Top