Air Force

F-16 लड़ाकू विमान का मेंटीनेंस हब बन सकता है भारत

लड़ाकू विमान F- 16

नई दिल्ली। अमेरिकी एयरोस्पेस कंपनी लॉकहीड मार्टिन को यदि भारत में एफ-16 विमान बनाने की अनुमति मिली तो भारत एफ-16 विमानों के रखरखाव का ग्लोबल हब भी बन सकता है। कंपनी के एक उच्च पदाधिकारी ने इस बात का संकेत किया है।





लॉकहीड मार्टिन का टाटा एडवांस्ड के साथ समझौता

लॉकहीड मार्टिन ने भारत में एफ-16 लड़ाकू विमान बनाने के लिए टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड के साथ समझौता किया है। एफ-16 विमान का मुकाबला स्वीडन की कंपनी साब के विमान ग्रिपेन से हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून में अमेरिका यात्रा के दौरान लॉकहीड मार्टिन की सीईओ मैरीलीन ह्यूसन से भी मुलाकात की थी।

भारत में एफ-16 के ब्लॉक 70 का निर्माण होगा

लॉकहीड मार्टिन के चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर केओकी जैक्सन ने दिल्ली में बताया कि यदि हमें अनुमति मिली तो हम टाटा के साथ मिलकर भारत में एफ-16 के ब्लॉक 70 का निर्माण करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि इस वक्त दुनिया में करीब 3000 एफ-16 विमान हैं। भारत इनकी सर्विसिंग का केंद्र भी बन सकता है।

लॉकहीड मार्टिन और टाटा पहले से ही एक दूसरे के सहयोगी हैं। हैदराबाद में लॉकहीड मार्टिन के लिए सी-130 हर्क्युलिस के एम्पैनेज और विंग बॉक्स टाटा बनाता है। सन 2013 से अब तक कम से कम 100 सी-130 किट यहाँ से बनकर जा चुके हैं। यहाँ सिकोर्स्की हेलिकॉप्टर के केबिन भी बनते हैं।

Comments

Most Popular

To Top