Air Force

श्रद्धांजलि: वायुसेना के एकमात्र अधिकारी अर्जन सिंह जिन्होंने मार्शल की सर्वोच्च रैंक हासिल की, जानें 10 बातें

भारतीय वायुसेना के महान योद्धा, निडर पायलट और इकलौते मार्शल अर्जन सिंह का आज ही के दिन यानी 16 सितंबर, 2017 को निधन हो गया था। वर्ष 1965 की लड़ाई में पाकिस्तान को धूल चटाने वाले अर्जन सिंह बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे। वह कुशल पायलट, प्रेरक लीडर और बेहतरीन प्रशासक थे। दुनियाभर की वायुसेनाओं की उन्हें गहरी जानकारी थी। भारतीय वायुसेना का कायाकल्प करने का श्रेय़ उन्हें जाता है।





कभी रिटायर नहीं हुए

अर्जन सिंह वायुसेना के एकमात्र अधिकारी रहे जिन्होंने मार्शल की सर्वोच्च रैंक (फाइव स्टार) हासिल की। वायुसेना का मार्शल रैंक भारतीय सेना में फील्ड मार्शल रैंक के बराबर होता है। भारतीय सेनाओं में पांच स्टार वाले सिर्फ तीन सैन्य अधिकारी हुए। अर्जन सिंह के अलावा फील्ड मार्शल सैम मानेकशॉ और फील्ड मार्शल के. एम. करिअप्पा भी पांच स्टार वाले अधिकारी थे। ये तीनों सेना से कभी रिटायर नहीं हुए।

मार्शल अर्जन सिंह

Comments

Most Popular

To Top