Air Force

स्क्वाड्रन लीडर आहूजा को एयर चीफ का आसमान में सलाम

एयर-चीफ-मार्शल-धनोआ

बठिंडा। भारतीय वायुसेना के प्रमुख बीएस धनोआ के नेतृत्व में स्क्वाड्रन लीडर अजय आहूजा के सम्मान में फ्लाई पास्ट किया गया। स्क्वाड्रन लीडर आहूजा की करगिल संघर्ष के दौरान जान गई थी और उन्हें बाद में वीर चक्र (मरणोपरांत) से सम्मानित किया गया था।





पंजाब के बठिंडा में वायुसेना प्रमुख के नेतृत्व में चार विमानों ने ‘मिसिंग मैन’ फारमेशन फ्लाई पास्ट किया। 27 मई 1999 को स्क्वाड्रन लीडर अजय आहूजा की पाकिस्तानी सैनिकों ने तब गोली मारकर हत्या कर दी थी। जब वो बटालिक सेक्टर में उड़ान भरते वक्त विमान से इजेक्ट हुए थे। तब वायुसेना ने ऑपरेशन सफेद चादर शुरू किया था। उस वक्त एयर चीफ मार्शल धनोआ श्रीनगर स्थित गोल्डन एरोज स्क्वाड्रन को कमांड करते थे और अजय आहूजा तब फ्लाइट कमांडर थे।

स्क्वाड्रन-लीडर-अजय -आहूजा

27 मई 1999 को स्क्वाड्रन लीडर अजय आहूजा की पाकिस्तानी सैनिकों ने तब गोली मारकर हत्या कर दी थी

स्क्वाड्रन लीडर आहूजा फ्लाइट लेफ्टिनेंट नचिकेता की तलाश में निकले साथियों की मदद के लिए उड़ान भरी थी। ये साथी फ्लाइट लेफ्टिनेंट नचिकेता के खोजी अभियान पर थे जब नचिकेता ने अपने जलते हुए मिग-27 से खुद को इजेक्ट किया था। इसी दौरान स्क्वाड्रन लीडर आहूजा के विमान को दुश्मन ने निशाना बनाया जिसका पता चलने पर आहूजा ने खुद को विमान से इजेक्ट किया। स्क्वाड्रन लीडर आहूजा को पाकिस्तानी सैनिकों ने पकड़कर गोली मार दी थी। इतना ही नहीं उन्हें शारीरिक यातनाएं भी दी गई थी।

‘मिसिंग मैन’  फ्लाई पास्ट शहीद हुए साथी के सम्मान में ‘हवाई सलाम’ की तरह किया जाता है। इस मौके पर पायलटों को संबोधित करते हुए एयर मार्शल धनोआ ने कहा कि हमें अतीत से सीखते हुए वर्तमान में काम करना है ताकि भविष्य को जीत सकें।

Comments

Most Popular

To Top