Air Force

वायुसेना के घूसखोर इंजीनियर को 4 साल कैद की सजा

गाजियाबाद: भारतीय वायुसेना के सहारनपुर सरसावा एयरफोर्स स्टेशन में कार्यरत असिस्टेंट इंजीनियर को सीबीआई की विशेष अदालत ने रिश्वतखोरी का दोषी पाए जाने पर चार साल कैद की सजा के साथ-साथ उस पर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। इंजीनियर को 13 हजार रुपए की रिश्वत लेते सीबीआई ने 15 नवंबर को रंगे हाथों गिरफ्तार किया था।





रूड़की निवासी यशपाल सिंह सहारनपुर सरसावा एयरफोर्स स्टेशन में असिस्टेंट गैरिसन इंजीनियर हैं। एयरफोर्स के कांट्रेक्टर अशोक कुमार का आरोप था कि बिल भुगतान व पेंडिंग वर्क के नाम पर यशपाल रिश्वत मांग रहे हैं। उन्होंने सीबीआई से शिकायत की थी। सीबीआई ने मामले में 12 नवंबर 2010 में एफआईआर दर्ज कर 15 नवंबर को यशपाल को 13 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया था।

इस मामले में यशपाल को निलंबित कर दिया गया था। बाद में उसे हाईकोर्ट से जमानत मिल गई थी और वह नौकरी पर बहाल हो गया था। सीबीआई की तरफ से बहस करते वरिष्ठ लोक अभियोजक नईम राजा ने अधिक से अधिक सजा देने की मांग की थी। बचाव पक्ष ने कहा कि मामले की अपील हाईकोर्ट में की जाएगी। सुनवाई के दौरान सीबीआई द्वारा 10 गवाह पेश किए गए। सोमवार को विशेष सीबीआई कोर्ट संख्या-2 के जज अनिल कुमार झा ने यशपाल को दोषी करार दिया था, मंगलवार को सजा पर बहस हुई थी और बुधवार को सजा पर फैसला सुनाया।

Comments

Most Popular

To Top