Air Force

वायुसेना फाइटर पायलट बनेगी एक चाय बिक्रेता की बेटी

नीमच की आंचल
नीमच की आंचल (सौजन्य- गूगल)

भोपाल। मध्य प्रदेश के छोटे से शहर नीमच की रहने वाली एक चायवाले की बेटी ने वह कारनामा कर दिखाया है जो देश की दूसरी बेटियों के लिए एक मिसाल है। चाय बेचकर घर-परिवार को चलाने वाले पिता सुरेश गंगवाल ने बेटी आंचल का आसमान छूने के सपने को पूरा करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी। आंचल गंगवाल का चयन एयरफोर्स की फ्लाइंग ब्रांच में हुआ है। देशभर से करीब 6 लाख युवक-युवतियां इस परीक्षा में शामिल हुए, जिसमें आंचल प्रदेश से अकेली थी जिसमें चयनित 22 लोगों में अपनी जगह बनाई।





आंचल लेबर इंस्पेक्टर की नौकरी छोड़कर 30 जून को एक साल की ट्रेनिंग के लिए जाएंगी। आंचल ने एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट की तैयारी इंदौर में रह कर पूरी की। उनकी इस कामयाबी पर परिजनों सहित नीमच वासियों में हर्ष का माहौल है।

आंचल ने महज अपने शहर का नाम रोशन करते हुए एयरफोर्स की परीक्षा उत्तीर्ण की है। इसके बाद वो ट्रेनिंग कर देश के लिए लड़ाकू विमान उड़ाएगी। आंचल बहुत ही साधारण परिवार से ताल्लुक रखती हैं और उनके पिता नीमच के बस स्टैंड पर एक चाय की गुमटी चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं।

पायसट बनकर देश की सेवा के मद्देनजर आंचल ने काफी लगन के साथ मेहनत कर सफलता हासिल की। एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट की तैयारी की लेकिन हिम्मत ना हारते हुए उन्हें छठी बार सफलता हासिल हुई। और उन्होंने पायलट बनने का सपने को सच कर दिखाया।

Comments

Most Popular

To Top