Army

अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने वाले 3 आतंकियों को सेना ने किया ढेर, चौथा जिंदा गिरफ्तार

भारतीय-सेना

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर के काजीगुंड में सुरक्षाबलों के सात हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादी मारे गए, जिनमें में दो आतंकी पाकिस्तान के थे। पुलिस ने आज (मंगलवार) कहा कि ये आतंकी इस वर्ष जुलाई में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले कथित रूप से शामिल थे। सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ की जगह से एक आतंकी को जिंदा पकड़ा है। दो आतंकी गत शाम ही मारे गए थे, जबकि तीसरे आतंकी का शव आधी रात के बाद ही बरामद हुआ है।





उल्लेखनीय है कि सोमवार को श्रीनगर जा रहे सेना के काफिले पर जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर काजीगुंड में आतंकवादियों ने हमला किया और जवाबी फायरिंग के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। हमले में एक सैनिक शहीद हुआ है जबकि दूसरा घायल हुआ है।

पुलिस के मुताबिक सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर आतंकवादियों की तलाश शुरू कर दी थी। यह खोज अभियान बाद में मुठभेड़ में बदल गया जो सोमवार देर रात दो बजे तक चला। पुलिस ने एनकाउंटर में मारे गए आतंकियों की पहचान स्थानीय आतंकी यावर बशीर और विदेशी आतंकी अबु फुकरान और अबु माविया के रूप में की है। कुलगाम का रहने वाला बशीर इसी साल फरवरी में एक पुलिसकर्मी से रायफल छीनने के बाद लश्कर-ए-तैयबा में शामिल हुआ था। आतंकी फुकरान ने अबु इस्माइल के मारे जाने के बाद दक्षिण कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा की कमान संभाली थी। इस्माइल ने जुलाई में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले का नेतृत्व किया था। जम्मू-कश्मीर पुलिस का कहना है कि मुठभेड़ में मारे गए तीनों आतंकी 10 जुलाई, 2017 को अमरनाथ यात्रियों पर हमला करने वाले गुट में शामिल थे। हमले में 08 यात्री मारे गए थे, जबकि लगभग 19 यात्री घायल हुए थे।

पुलिस के मुताबिक फुकरान के नेतृत्व वाला गुट अनंतनाग और कुलगाम में विभिन्न अपराधों में शामिल रहा है, जैसे बांटिगो में बस पर हुआ हमला, राष्ट्रीय राजमार्ग पर लोवर मुंडा में सुरक्षाबलों पर हमला और अनंतनाग बस स्टैंड पर पुलिस दल पर हमला। पुलिस ने कहा कि काजीकुंड में कल सेना के काफिले पर हमला करने वालों में राशिद भी शामिल था, पर एनकाउंटर के दौरान बच निकला। उसने अपने एक सहयोगी की मदद से अनंतनाग के अस्पताल में आसरा लिया था। अपने मददगार के सहयोग से वह पुलिसकर्मियों पर हमला कर हथियार छीनने की योजना बना रहा था।

Comments

Most Popular

To Top