Air Force

वायुसेना के लिये 12 हाई पावर रेडार खरीदे जाएंगे

रडार
हाई पावर रेडार (प्रतीकात्मक)

नई दिल्ली। भारतीय नभसीमाओं की चौकसी के लिये वायुसेना को 12 और हाई पावर रेडार मुहैया कराने का फैसला रक्षा मंत्रालय ने किया है। ये रेडार चारों दिशाओं पर एक साथ नजर रख सकेंगे और किसी भी हमलावर विमान या मिसाइल के आगमन की चेतावनी अपने रक्षा प्रणालियों को बता सकेंगे।





 रक्षा मंत्रालय की रक्षा खरीद परिषद(डीएसी) की बैठक रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में हुई जिसमें यह फैसला लिया गया कि वायुसेना को दिये जाने वाले ये 12 हाई पावर रेडार देश में ही बनाए जाएंगे। तकनकी तौर पर  ये रेडार काफी श्रेष्ठ माने जाते हैं जो 360 डिग्री  तरीके से दिन रात सक्रिय रहेंगे और इसके लिये इनके एंटीना को घुमाने की जरुरत नहीं पड़ेगी।

 इन 12 रेडारों सहित रक्षा खरीद परिषद ने करीब 55 सौ कऱोड़ रुपये के रक्षा साज सामान की खरीद के आर्डर दिये हैं। डीएसी ने भारतोय कोस्ट गार्ड और थलसेना के लिये एयर कुशन वेहीकल भी हासिल करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। ये वेहीकल्स छिछले पानी में पारम्परिक पोतों की तुलना में काफी तेजी से चल सकेगे। ये समुद्री वाहन उभयस्थलीय कार्रवाई में काफी सहायक साबित होंगे।  अक्सर एक द्वीप से दूसरे द्वीप पर सैनिकों और सामान को तत्काल भेजने की जरुरत होती है। इनके परिवहन में ये एयर कुशन वेहीकल्स काफी उपयोगी साबित होंगे।

Comments

Most Popular

To Top