Featured

सेन्ट्रल जेल नैनी की सुरक्षा व्यवस्था किसके भरोसे?

सेंट्रल जेल नैनी
सेंट्रल जेल नैनी (फाइल फोटो)

इलाहाबाद। सेंट्रल जेल नैनी की सुरक्षा व्यवस्था आखिर किसके भरोसे है, यह बात समझ से परे है। फिलहाल इस जेल में एक जेल अधीक्षक, तीन जेलर, सात डिप्टी जेलर और सौ से अधिक बंदी रक्षकों के पद खाली हैं। खास बात यह है कि यहां कुख्यात अपराधियों से लेकर अयोध्या में आतंकी हमले में आरोपित आतंकी तक कैद हैं। साथ ही आलम यह भी है कि जेल की सुरक्षा का नेटवर्क ध्वस्त है।





यूं तो मोबाइल पर पाबंदी के लिए जेल में जैमर लगा है पर 4जी नेटवर्क के सामने वह बेकार है। इसका लाभ उठाकर कुछ शातिर बंदी अपने करीबी गुर्गों से बातचीत करते हैं। फिर जेल से बाहर वारदात को अंजाम दे जाते हैं। जेल के भीतर मोबाइल के इस्तेमाल की पुष्टि यहां के कैंट थाने में दर्ज एक रिपोर्ट भी करती है।

सूबे में बागपत जिला कारगार जैसी वारदात के बाद यहां सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त तो करने की कवायद तो की जा रही है लेकिन रिक्त पद कब भरे जाएंगे यह कोई नहीं बता पा रहा है। नैनी केन्द्रीय कारागार में इस समय तीन हजार बंदी हैं।

Comments

Most Popular

To Top