Featured

घाटी में पथराव से घायल उत्तराखंड के जवान ने दम तोड़ा

पत्थरबाजी के कारण जवान की मौत

श्रीनगर। कश्मीर घाटी में बृहस्पतिवार को कुछ युवकों द्वारा किए गए पथराव में घायल भारतीय सेना के एक जवान की शुक्रवार को मौत हो गई। सेना के जवान राजेंद्र सिंह को सिर में चोट लगने से यहां अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।





जांबाज जवान राजेंद्र सिंह पर हमला उस वक्त हुआ था जब वह बृहस्पतिवार को सीमा सड़क संगठन (BRO) के काफिले को सुरक्षा प्रदान कर रहे थे। उस वक्त काफिला राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या- 44 के पास अनंतनाग बाईपास तिराहे से गुजर रहा था।

इस दौरान कुछ युवाओं ने पथराव किया जिसमें राजेंद्र सिंह घायल हो गए। उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद 92 बेस अस्पताल पहुंचाया गया जहां उन्होंने दम तोड़ दिया।

इस बीच आर्मी चीफ बिपिन रावत ने इस घटना पर नाराजगी जताते हुए कहा कि पाकिस्तान अपने मंसूबों पर कभी सफल नहीं हो सकता है। सीमा सड़क संगठन सीमा पर सड़कों का निर्माण करता है उसे सुरक्षा देने वाले जवान की मौत हो गई। उसके बाद भी कुछ लोग कहते हैं पत्थरबाजों को आतंकियों की ओवर ग्राउंड वर्कर्स की तरह व्यवहार ना किया जाए। उन्होंने कहा कि इस मामले में FIR दर्ज कराई है।

जवान राजेंद्र सिंह उत्तराखंड के बडेना गांव के निवासी थे। वह भारतीय थल सेना में साल 2016 में भर्ती हुए थे। परिवार में उनके माता-पिता हैं। जवान राजेंद्र क्विक रिक्शन टीम के सदस्य थे।

 

Comments

Most Popular

To Top