Featured

कश्मीर में हर मोर्चे पर नजर रखेंगे सरकार के ये तीन धुरंधर

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू होने के बाद से राज्य में आतंकी गतिविधियों को रोकने के लिए केंद्र ने शीर्ष स्तर पर कई फेरबदल किए हैं। सरकार ने तीन ऐसे अधिकारियों को जम्मू-कश्मीर भेजा है जो अपने-अपने क्षेत्र के विशेषज्ञ हैं। ये तीन अफसर हैं छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रहमण्यम, पूर्व आईपीएस अधिकारी बीबी व्यास तथा नक्सल विरोधी अभियानों के विशेषज्ञ पूर्व आईपीएस अफसर के. विजय कुमार । आईए जानते हैं कि क्या है इन अधिकारियों का प्रोफाइल :-





बी.वी. आर. सुब्रहमण्यम

यह छत्तीसगढ़ कैडर के लोकसेवा अधिकारी हैं। यह फिलहाल छत्तीसगढ़ में अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह हैं। सुब्रहमण्यम को जम्मु कश्मीर का मुख्य सचिव नियुक्त किया गया है। वर्ष 2004 2008 के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के निजी सचिव रहे हैं साथ ही जून 2008 से सितंबर, 2011 के बीच ‘विश्व बैंक’ के साथ भी कार्य कर चुके हैं। मई 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय में रहे। तथा उसके बाद अपने कैडर छत्तीसगढ़ में कार्यरत हैं।

बी.बी. व्यास

60 वर्षीय बी.बी. व्यास जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्य सचिव हैं।  उन्हें राज्यपाल एनएन वोहरा के सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया है। इन्हें राज्यपाल के भरोसेमंद सिपाहियों में गिना जाता है। उन्हें सेवा में बनाए रखने के लिए कार्मिक मंत्रालय ने नियमों में बदलाव किए हैं और 31 मार्च 2018 को उनकी सेवा अवधि बढ़ा दी गई। उन्हें पिछले साल नवंबर में सेवानिवृत्त होना था लेकिन उन्हें दो बार तीन तीन माह के लिए सेवा विस्तार दिया गया।

के. विजय कुमार

के. विजय कुमार तमिलनाडु कैडर के पूर्व आईपीएस अधिकारी हैं। वह राज्यपाल के सलाहकार नियुक्त किए गए हैं। तमिलनाडु कैडर के 1975 बैच के IPS अधिकारी रहे विजय कुमार वर्ष 1998 से 2001 तक कश्मीर में तैनात रहे हैं। उस वक्त वह BSF के आईजी थे। अक्टूबर 2010 में उन्हें CRPF का महानिदेशक बनाया गया। इससे कुछ समय पहले CRPF के 75 जवान नक्सली हमले में शहीद हो गये थे। विजय कुमार के बल की कमान संभालने के बाद नक्सली गतिविधियों में कमी दर्ज की गई। विजय कुमार को लोग इसलिए भी जानते हैं कि जिस टीम ने कुख्यात चंदन तस्कर वीरप्पन को मुठभेड़ में मार गिराया था उसका नेतृत्व उन्हींने किया था।

 

Comments

Most Popular

To Top