Featured

स्पेशल रिपोर्ट: जापान के राजदूत ने कहा- मजबूत भारत जापान के हित में

जापान के राजदूत केंजी हीरामात्सु

नई दिल्ली। जापान ने कहा है कि एक मजबूत भारत जापान के हित में है और एक मजबूत जापान भारत के हित में है। दि्वपक्षीय रिश्तों को लेकर दोनों के विचार एक दूसरे को मजबूती प्रदान करते हैं।





जापान के राजदूत केंजी हीरामात्सु ने यहां जापान के राष्ट्रीय दिवस के मौके पर कहा कि प्रधानमंत्री शिंजो एबे कह चुके हैं कि  भारत और जापान के बीच एक ठोस साझेदारी का रिश्ता पूरे विश्व के लिये तो अच्छा है ही क्षेत्रीय व्यवस्था को बनाए रखने में भी योगदान करता है। हीरामात्सु के मुताबिक प्रधानमत्री मोदी भी यह मानते हैं कि भारत औऱ जापान का रिश्ता अब ऐसी साझेदारी में तब्दील हो चुका है जिसका विशेष उद्देश्य अब बताया जाने लगा है। वास्तव में भारत जापान रिश्ता भारत की  एक्ट ईस्ट नीति का मुख्य आधार बन चुका है।

राजदूत के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी के पिछले जापान दौरे में दोनों देशों ने खुला और मुक्त हिंद प्रशांत इलाके के लिये प्रतिबद्धता जाहिर की थी। जापान के हिंत प्रशांत नजरिया में जापान भारत को विशेष स्थान देता है।

दोनों देशों के बीच रिश्ते आपस में उलझे हुए हैं और पूरे क्षेत्र के आर्थिक विकास की रीढ साबित होंगे। हीरामात्सु ने कहा कि अब हम यह कह सकते हैं कि भारत और जापान के भविष्य जुड़े हैं। राजदूत ने कहा कि पिछले अक्टूबर माह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जापान दौरा अब तक का सबसे अच्छा कहा जा सकता है। इस दौरान एक दूसरे पर भरोसा औऱ मजबूत हुआ औऱ सहयोग के ठोस नतीजे निकले। प्रधानमंत्री मोदी पहले विदेशी नेता थे जिन्हें प्रधानमंत्री एबे ने अपने निजी आवास पर भोज के लिये आमंत्रित किया।

Comments

Most Popular

To Top