Featured

स्पेशल रिपोर्ट: अर्जेन्टीना में मोदी चौथी बार मिलेंगे शी से

पीएम मोदी और शी जिन फिंग

नई दिल्ली। अर्जेन्टीना की राजधानी ब्यूनस आयर्स में जी- 20 शिखर बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग से एक बार फिर मिलेंगे। इस साल अप्रैल में  चीन के शहर वूहान में मोदी-शी की अनौचपारिक शिखर बैठक के बाद गत आठ महीनों के भीतर  दोनों नेताओं की यह चौथी मुलाकात होगी।





ब्यूनस आयर्स में मोदी-शी की मुलाकात की पुष्टि करते हुए यहां विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि जोहानीसबर्ग में ब्रिक्स शिखर बैठक के दौरान यह सहमति हुई थी कि दोनों नेता नियमित तौर पर मिलते रहेंगे। वूहान शिखर बैठक की भावनाओं के अनुरूप अब मोदी- शी की चौथी मुलाकात तय होने से माना जा रहा है कि दोनों देशों के बीच सौहार्द् का रिश्ता जारी रखने पर सहमति हो चुकी है और इसी के अनुरूप दोनों नेता जब भी एक शहर में होंगे उनकी आपसी मुलाकात जरुर होगी।

प्रधानमंत्री 28 नवम्बर की शाम को ब्यूनस आयर्स के लिये रवाना होंगे। वह दो दिसम्बर की रात को लौट आएंगे। उनका अर्जेन्टीना प्रवास बहुत ही संक्षिप्त केवल 8 घंटे का ही होगा।

इस मुलाकात के दौरान भारत चीन के रिश्तों में प्रगति की समीक्षा होगी और दोनों नेता रिश्तों की भावी दिशा तय करने के बारे में आम  सहमति बनाने की कोशिश करेंगे। गौरतलब है कि तीन दिनों पहले ही चीन के छंगतू शहर में भारत औऱ चीन के प्रधानमंत्रियों के विशेष प्रतिनिधियों की सीमा मसले पर 21 वें दौर की वार्ता सम्पन्न हुई है जिससे दोनों पक्ष काफी संतुष्ट बताये जाते हैं। चीन ने कहा है कि सीमा मसले पर दोनों देशों के अधिकारियों के बीच सहमति बढ़ी है।

गौरतलब है कि  कुछ दिनों पहले ही यहां चीन के राजदूत  ने कहा था  कि भारत के साथ चीन के  रिश्ते इतिहास में अब तक के सबसे अच्छे चल रहे हैं।यहां चीन भारत  युवा संवाद को सम्बोधित करते हुए चीन के राजदूत ल्वो चाओ हुई ने कहा था कि इस साल अप्रैल में चीन के वूहान शहर में हुई प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिन फिंग के बीच हुई अनौपचारिक शिखर बैठक के बाद जो आम सहमति बनी उसे दोनों देश लागू कर रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top