Featured

स्पेशल रिपोर्ट: लाकहीड मार्टिन ने कहाः सौ एफ- 16 का ऑर्डर मिले तो भारत में लगाएंगे 400 का कारखाना

लड़ाकू विमान F- 16
लड़ाकू विमान F- 16 (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। एफ-16 लड़ाकू विमान बनाने वाली अमेरिकी कम्पनी लाकहीड मार्टिन ने कहा है कि यदि उसे भारतीय वायुसेना के लिये एक सौ एफ-16 लड़ाकू विमानों का आर्डर मिले तो वह भारत में अंतरराष्ट्रीय निर्यात के लिये चार सौ एफ-16 विमानों के उत्पादन का कारखाना लगाएगी।





लाकहीड मार्टिन ने अपने प्रस्तावित कारखाने में एफ-16 की नवीनतम किस्म ब्लाक-70 के उत्पादन की पेशकश भारतीय वायुसेना से की है।

गौरतलब है कि पिछले साल लाकहीड मार्टिन ने टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लि. (टीएएसएल) के साथ मिलकर भारत में एफ-16 की ब्लाक-70 किस्म का कारखाना लगाने के लिये संयुक्त उद्यम लगाने का ऐलान किया था। एफ-16 विमान में लगे रेडार, शस्त्र और संचार प्रणालियों की संवेदनशील तकनीक के हस्तांतरण के बारे में पूछे जाने पर लाकहीड मार्टिन के अधिकारी ने बताया कि इनमें से अधिकतर प्रणालियां वेंडरों द्वारा सप्लाई की जाती हैं इसलिये इनकी तकनीक बताने के बारे में अमेरिकी प्रशासन के साथ मिल कर बात करनी होगी।

एफ-16 -वी में लगी प्रमुख नई तकनीक में आएसा एपीजी-83 रेडार लगे हैं जिन्हें स्केलेबल बीम रेडार कहते हैं। एफ-16- वी में लिंक-16 मल्टी फंक्शनल इनफार्मेशन डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम-ज्वांइट टैक्टिकल रेडियो सिस्टम(एमआईडीएस-जेटीआरएस) लगा है।

भारतीय वायुसेना के लिये आर्डर मिलने की उम्मीद में लाकहीड मार्टिन कम्पनी अपने साझेदारों से बातचीत कर रही है। एफ-16 के बिजनेस डेवलपमेंट अघिकारी रैंडल हावर्डने कहा कि भारत में एफ-16  का जो कारखाना लगाने का प्रस्ताव है वहां से दुनिया भर में एफ-16 के कलपुर्जें और प्रणालियों की सप्लाई की जाएगी। लाकहीड मार्टिन को केवल बहरीन, स्लोवाकिया और ग्रीस से ही मेनटेनेंस,सप्लाई आदि के लिये सालाना दस अरब डालर का ठेका मिलता है।

बहरीन ने ही  एफ-16  की ब्लाक-70  किस्म के लिये अब तक 1.1  अरब डालर का आर्डर दिया है जो बढकर 3.3  अरब डालर का हो सकता है। ग्रीस भी अपने 80  एफ-16  विमानों का अपग्रेड कर सकता है। स्लोवाकिया ने भी स्वीडन के ग्रिपेन को छोड़ कर 14  एफ-16  का 1.8 अरब डालर का आर्डर दिया है।

Comments

Most Popular

To Top