Featured

Special Report: दलाई लामा- मैं 110 साल तक रहूंगा जीवित

बौद्ध धर्मगुरू दलाई लामा
फोटो सौजन्य- गूगल

नई दिल्ली।  84 साल के दलाई सामा ने अपने खराब स्वास्थ्य को लेकर अटकलें दूर करने की कोशिश करते हुए कहा है कि वह  पूरी तरह स्वस्थ हैं औऱ वह 110 साल तक जिंदा रहेंगे। दलाई लामा ने अपने भविष्य के बारे में चिंताएं दूर करते हुए कहा कि  भारत सरकार उन्हें सर्वश्रेष्ठ चिकित्सा सुविधा प्रदान कर रही है।





गौरतलब है कि तिब्बत के 14वें दलाई लामा के भविष्य को लेकर सामरिक हलकों में गहन चर्चा इन दिनों चल रही है। कहा जा रहा है कि दलाई लामा के निधन के बाद अगला दलाई लामा चीन तय करेगा या फिर तिब्बती लोग तय करेंगे। दलाई लामा के निधन के बाद जन्मे  बच्चों पर नजर रखी जाती है और कहा जाता है कि दलाई लामा का पुर्नजन्म इस बच्चे में हुआ है। इस प्रक्रिया में कुछ दिनों से लेकर कुछ साल तक लग जाते हैं।  माना जाता है कि दलाई लामा में यह शक्ति होती है कि वह किसी शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। चीन ने कहा है कि यह उसका अधिकार है कि ऐसे बच्चे की खोज करे। लेकिन तिब्बत धार्मिक संगठनों ने इसका प्रतिवाद किया है।

धर्मशाला में मेनेसोटा तिब्बती संघ की एक सभा को सम्बोधित करते हुए दलाई लामा ने एक स्वप्न देखने की बात करते हुए कहा कि तिब्बती परम्परा के आठ धर्म संरक्षकों में से एक तिब्बत के धर्मगुरु  पाल्देन लामो की  देवी  ने दलाई लामा की पीठ पर सवार हो कर कहा कि वह 110 साल तक जीवित रहेंगे। दलाई लामा ने यह भी बताया कि कई अन्य दैवीय कथनों ने भी उनके लम्बे जीवन की बात कही है।

दलाई लामा ने कहा कि  तिब्बती उन्हें भूले नहीं हैं औऱ वह तिब्बती लोगों को नहीं भूलेंगे। एक तिब्बती नेता के मुताबिक दलाई लामा के इन भरोसा पैदा करने वाले कथनों से उनके जीवन को लेकर चिंताएं दूर होंगी।

Comments

Most Popular

To Top