Featured

Special Report: चीन का पहला स्वदेशी विमानवाहक पोत दूसरे  समुद्री परीक्षण के लिये तैयार

चीन का एयरक्राफ्ट शिप

नई दिल्ली। चीन का पहला स्वदेशी विमानवाहक पोत अब दूसरे समुद्री परीक्षण के लिये तैयार है। टाइप -001ए के नाम से ज्ञात इस  विमानवाहक पोत पर पिछले सप्ताह ही आउटफिटिंग वर्क पूरा हुआ है। चीन की नौसेना में शामिल होने वाला यह दूसरा विमानवाहक पोत होगा।





चीनी समाचार पोर्टल वनवेई पाओ की एक रिपोर्ट के मुताबिक विमानवाहक पोत को गोदी से बाहर निकाल लिया गया है और अब इसे दूसरे समुद्री परीक्षण के लिये तैयार किया जा रहा है। इस विमानवाहक पोत का पहला  समुद्री परीक्षण गत 13 से 18 मई के दौरान हुआ था। चाईना शिपबिल्डिंग इंडस्ट्री कारपोरेशन के चेयरमैन हू वेनमिंग के मुताबिक पहला समुद्री परीक्षण काफी सफल रहा है। अप्रैल , 2017 में चीन ने इस विमानवाहक पोत का जलावतरण किया था। यह पोत 2020 तक चीनी नौसेना में शामिल हो जाएगा।

इसके पांच साल पहले 2012 में चीन ने  अपना पहला विमानवाहक पोत ल्याओनिंग को अपनी नौसेना में शामिल किया था। ल्याओनिंग एक मरम्मत किया हुआ सोवियत कुजनेत्सोव विमानवाहक पोत है।

चीन का यह पहला स्वदेशी विमानवाहक पोत 50 हजार टन विस्थापन क्षमता का है जब कि सोवियत काल का ल्याओनिंग विमानवाहक पोत 67 हजार टन विस्थापन क्षमता का है।

दूसरी ओर भारत में बन रहा पहला स्वदेशी विमानवाहक पोत विक्रांत 40 हजार टन विस्थापन क्षमता का है। विक्रांत पर करीब 30 विमान और दस हेलीकाप्टर तैनात हो सकते हैं। भारत में दूसरा विमानवाहक पोत विशाल को भी बनाने की हरी झंडी सरकार ने दे दी है।

Comments

Most Popular

To Top