Featured

AK-47 राइफल के साथ पुलिसकर्मी लापता, हिजबुल ने कहा हमारे साथ आया

सर्च

श्रीनगर। प्रतिबंधित आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन ने इस बात का दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान उनके गुट में शामिल हो गया है। हालांकि पुलिस ने अभी इस बारे में कुछ नहीं कहा है। मीडिया खबरों के मुताबिक श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर पांपोर के थाना प्रभारी के सुरक्षा दस्ते में शामिल इस पुलिसकर्मी के बारे में पहले खबर आई थी कि वह एके-47 राइफल के साथ लापता है। लेकिन हिजबुल मुजाहिदीन ने एक बयान जारी कर कहा है कि वह उसका हिस्सा बन गया है।





एके-47 राइफल के साथ लापता पुलिसकर्मी की पहचान पुलवामा जिले के निहामा,काकपोरा निवासी इरफान अहमद डार के रूप में हुई है। वह पांपोर थाना प्रभारी के एस्कार्ट दस्ते का सदस्य था। बताया जा रहा है कि मंगलवार की दोपहर तक वह थाने में ही था लेकिन उसके बाद अचानक वह लापता हो गया। उससे संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन उसका फोन स्विच ऑफ मिला।

पुलिस ने उसके लापता होने की ताकीद तो की है लेकिन साथ ही यह भी कहा है कि अभी तक ऐसा कोई प्रमाण नहीं मिला है कि वह किसी आतंकी संगठन में शामिल हो गया है।

इधर हिजबुल मुजाहिदीन के प्रवक्ता गाजी बुरहानुदीन ने न्यूज एजेंसियों को फोन कर कहा है कि लापता पुलिसकर्मी इरफान अहमद ने पुलिस की नौकरी छोड़कर हिजबुल मुजाहिदीन का साथ देने का फैसला किया है।

Comments

Most Popular

To Top