Featured

PICS : कीचड़ में कमांडो, इन 9 तस्वीरों में देखें कैसे तैयार हो जाते हैं ये ‘जांबाज’

कोई युवा एक अल्हड़ और मनमौजी लड़के के रूप में सेना में भर्ती होता है। लेकिन यहां उसे ऐसा प्रशिक्षण दिया जाता है कि वह न सिर्फ अनुशासित बन जाता है बल्कि उसके भीतर का डर भी पूरी तरह निकल जाता है।  प्रशिक्षण के जरिए उसमें दृढ़ता और आत्मविश्वास पैदा किया जाता है। उसमें ताकत, मजबूती और अनुशासन का संचार किया जाता है, ताकि वह मोर्चे पर हर चुनौती से जूझ सके उससे निपट सके। यही कारण है कि हर कैडेट अपने ट्रेनिंग सेंटर से एक जेंटिलमैन के रूप में बाहर निकलता है। आज हम लाए हैं ITBP के जवानों कुछ ऐसी ही तस्वीरें जिन्हें देखकर आप भी जवानों को उनकी मेहनत, हिम्मत और जज्बे के लिए सैल्यूट करेंगे :-





कीचड़ में गुलाटी

यदि आप सेना ज्वाइन करने जा रहे हैं तो आपको भी कीचड़ में गुलाटी मारनी पड़ सकती है। क्योंकि यह सेना की ट्रेनिंग का हिस्सा है। ट्रेनिंग के दौरान जवानों को हर उस मुश्किल चुनौती से निपटने का प्रशिक्षण दिया जाता है जिनसे उसका भविष्य में सामना हो सकता है।

Comments

Most Popular

To Top