Featured

अमेरिका में भारतीय छात्रों की संख्या लगातार पांचवें साल बढ़ी

नई दिल्ली।  अमेरिका में भारतीय छात्रों की संख्या में लगातार पांचवें साल भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। इंटरनेशनल एजूकेशनल एक्सचेंज के बारे में यहां जारी 2018 ओपन डोर्स रिपोर्ट के अनुसार पिछले वर्ष  अमेरिका में पढ़ रहे भारतीयों की संख्या 5.4 प्रतिशत बढ़कर 196,271 हो गई है। यह लगातार पांचवां वर्ष है कि अमेरिका में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए अमेरिका में पढ़ने वाले भारतीयों की कुल संख्या में वृद्धि हुई है।





अमेरिका-भारत एजूकेशनल फाउंडेशन (यूएसआईईएफ) में मिनिस्टर कांसुलर अफेयर्स जोसेफ पॉम्पर ने कहा, ‘‘पिछले 10 वर्षों के आंकड़ों को देखते हुए, अमेरिका जाने वाले भारतीयों की संख्या दोगुनी हो गई है। कारण स्पष्ट हैं – भारतीय छात्र एक अच्छी शिक्षा खोजते हैं और अमेरिका इसे प्रदान कर रहा है।’’

पॉम्पर ने यह भी कहा कि अमेरिका में अध्ययन करने के लिए आवेदन करने वाले योग्य भारतीयों के साथ-साथ देशभर में आयोजित अमेरिकी विश्वविद्यालय मेलों में भारी संख्या में छात्र भाग ले रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में कुल अंतर्राष्ट्रीय छात्रों की संख्या के 18 प्रतिशत भारतीय है। केवल चीन के छात्र इससे आगे हैं। भारत के दूसरे सबसे बड़ी संख्या में ग्रेजुएट छात्र और चौथे सबसे अधिक अंडरग्रेजुएट छात्र हैं। यह भी ध्यान देने योग्य है कि भारत में पढ़ने वाले अमेरिकियों की संख्या 12.5 प्रतिशत बढ़कर 4,704 हो गई है।

यूएसआईईएफ के निदेशक, एडम ग्रोत्स्की ने कहा, ‘‘अमेरिकी विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा अध्ययन के लिए भारत को चुनने में उल्लेखनीय वृद्धि देखकर रोमांचित हूं। यूएसआईईएफ में हमारा मानना है कि अर्थपूर्ण रिश्तों को बढ़ाने और अमेरिकी और भारतीय नागरिकों के लिए आपसी समझ बढ़ाने के लिए छात्र आदान-प्रदान सबसे अच्छा तरीका है।’’

वर्ष 2017-18 में अमेरिकी कालेजों और विश्वविद्यालयों ने लगातार तीसरे वर्ष 10 लाख से अधिक अंतर्राष्ट्रीय छात्रों की मेजबानी की। यह बारह वर्षों की लगातार बढ़ोतरी को प्रदर्शित करता है।

 

Comments

Most Popular

To Top