Featured

नाइजीरिया के नौसेना अध्यक्ष भारत यात्रा पर, मजबूत होंगे रक्षा संबंध

नाइजेरियन नेवल प्रेसीडेंट

नई दिल्ली। नाइजीरिया के नौसेना अध्‍यक्ष वाइस एडमिरल Ibok-Ete Ekwe Ibas चार सदस्‍यीय शिष्‍टमंडल के साथ भारत यात्रा पर है। वह 19 जुलाई तक भारत की यात्रा पर रहेगें। इस यात्रा का मुख्‍य उद्देश्‍य भारत और नाइजीरिया की नौसेना के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाना और नौसैनिक क्षेत्र में सहयोग की नयी संभावनाएं तलाशना है।





अपनी यात्रा के दौरान नाइजीरिया के नौसेना अध्‍यक्ष भारतीय नौसेना अध्‍यक्ष एडमिरल सु‍नील लांबा सहित नौसेना के कई वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। उनका वायुसेना अध्‍यक्ष और थल सेना प्रमुख से भी मिलने का कार्यक्रम है।

एडमिरल सु‍नील लांबा के साथ नाइजीरिया के नेवल प्रेसीडेंट

एडमिरल सु‍नील लांबा के साथ नाइजीरिया के नेवल प्रेसीडेंट

भारत नाइजीरिया का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है और नाइजीरिया अफ्रीका में भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है। संयुक्त रक्षा सहयोग समिति की बैठक के माध्यम से भारतीय नौसेना कई मोर्चों पर नाइजीरियाई नौसेना के साथ सहयोग करती है जिसमें प्रशिक्षण, विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों का आदान-प्रदान और हाइड्रोग्राफिक सहयोग शामिल है। इसके अलावा, भारतीय नौसेना के जहाजों द्वारा नाइजीरिया के बंदरगाहों की यात्रा के तहत जून 2017 में INS Tarkash की हाल की यात्रा ने नाइजीरिया के साथ रक्षा सहयोग को और मजबूत किया है।

नाइजीरिया के नौसेना प्रमुख नयी दिल्‍ली के बाद मुंबई,कोच्‍च‍ि और गोवा भी जाएंगे जहां वे भारतीय नौसेना के पश्चिमी और दक्षिणी कमान के कंमाडर इन चीफ तथा गोवा के फ्लैग आफिसर से मुलाकात करेंगे। मुंबई और कोच्‍चि और गोवा की इस यात्रा के दौरान एडमिरल Ibok-Ete Ekwe Ibas भारतीय नौसना के ट्रेनिंग स्‍कूल और वि‍भिन्‍न इकाइयां भी देखने जाएंगे। मुंबई में मंझगांव शिप बिल्डर्स लिमिटेड और गोवा में गोवा शिप बिल्डर्स लिमिटेड की उनकी यात्रा के दौरान जहाज निर्माण से जुड़े मुद्दों पर दोनों पक्षों के बीच बातचीत होगी।

Comments

Most Popular

To Top