DEFENCE

Special Report: इजराइल की रक्षा कम्पनी अब लोहिया ग्रुप के पास

लोहिया ग्रुप

नई दिल्ली। इजराइल की कम्पनी लाइट एंड स्ट्रांग लि. के अधिग्रहण  के साथ ही भारत का लोहिया ग्रुप अंतरिक्ष वैमानिकी और रक्षा क्षेत्र के उद्योग में प्रवेश कर गया है। इजराइल की कम्पनी एरोस्पेश औऱ मिलिट्री कार्बन फाइबर और ग्लास फाइबर कम्पोजिट फाइबर के साज सामान का उत्पादन करती है। लोहिया ग्रुप के विभिन्न क्षेत्रों में कई दशक पुराने अनुभवों के अनुरूप इजराइली कम्पनी के सैन्य तकनीक वाले साज सामान बनाने के अनुभवों से मेल खाते है।





इजराइल की कम्पनी के अधिग्रहण से लोहिया ग्रुप को इजराइली कम्पनी के भारी संख्या में ग्राहकों का लाभ मिलेगा। इसके ग्राहकों में इजराइली रक्षा मंत्रालय भी शामिल है। इनकी बदौलत लोहिया ग्रुप को देश विदेश में अपना आधार बनाने का मौका मिलेगा।

लोहिया ग्रुप कानपुर आधारित कम्पनी है जो उत्तर प्रदेश के नये रक्षा गलियारे का हिस्सा बनेगी। इजराइली कम्पनी मानवरहित विमानों (यूएवी), यात्री और मालवाही जहाजों के  हिस्से बनाती है। इन ग्राहकों को लोहिया ग्रुप अब इजराइल औऱ अपने देश में स्थित कारखानों के जरिये अब समुचित समर्थन देगा। लोहिया ग्रुप अब अंतरिक्ष वैमानिकी और रक्षा क्षेत्र में उच्च स्तर के साज सामान के क्षेत्र में अपनी विशेष मौजूदगी बनाएगा। भारत सरकार के ‘स्किल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ के जरिये लोहिया ग्रुप अब विश्व के ग्राहकों के बीच अपनी पैठ बना सकेगा। इस तरह इन खास तरह के उत्पादों के क्षेत्र में लोहिया ग्रुप भारत को एक अहम निर्यातक के तौर पर स्थापित करेगा।

लोहिया ग्रुप के निदेशक अनुराग लोहिया ने कहा कि लाइट एंड स्ट्रांग के अधिग्रहण से हम अति उन्न्त तकनीकी दुनिया में अपनी  निर्माण  सुविधाओं को एकीकृत कर सकेंगे।  हमारा मेक इन इंडिया में भरोसा है जिसकी बदौलत हम स्वदेशी एरोस्पेस एंड डिफेंस सेक्टर को मजबूत आधार प्रदान कर सकेंगे।

लोहिया ग्रुप प्लास्टिक से बुने सैक इंडस्ट्री में दुनिया के प्रमुख निर्माताओं में से एक है। पांच हजार कामगारों वाली इस कम्पनी की पहुंच 85 देशों में है। यह ग्रुप टेक्सटाइल्स औऱ ऑटो सेक्टर्स में भी सक्रिय है।

Comments

Most Popular

To Top