Featured

गोवा के पास भारत और फ्रांस के बीच नौसैनिक अभ्यास VARUNA-18 शुरू

भारत-फ्रांस का संयुक्त नौसैनिक अभ्यास VARUNA-18
भारत-फ्रांस का संयुक्त नौसैनिक अभ्यास VARUNA-18

नई दिल्ली। भारत और फ्रांस का संयुक्त नौसैनिक अभ्यास VARUNA-18 सोमवार को अरब सागर में गोवा के तट के पास शुरू हो गया। तीन चरणों में होने वाले इस सैन्य अभ्यास का पहला चरण 24 मार्च को खत्म होगा। दूसरा चरण अगले माह अप्रैल में चेन्नई तट के पास होगा। तीसरा और अंतिम चरण मई में हिन्द महासागर में फ्रांसीसी द्वीप ला रियूनियन पर होगा।





सोमवार को अरब सागर में गोवा तट के पास शुरू हुए अभ्यास में फ्रांसीसी नौसेना का पनडुब्बी-रोधी युद्धपोत ज्यां डी वियने, भारतीय नौसेना का पोत आईएनएस मुंबई और युद्धपोत आईएनएस त्रिखंड भी इस अभ्यास में भाग ले रहे हैं। इसमें पनडुब्बी-रोधी, हवाई रक्षा और अलग-अलग रणनीतियों वाले अभ्यास भी होंगे।

सैन्य अधिकारियों के मुताबिक दोनों इस अभ्यास से दोनों देशों की नौसेना के बीच परस्पर सहयोग बढ़ेगा।

भारतीय नौसेना की पऩडुब्बी कलवरी, पी8-1 और डॉर्नियर समुद्री गश्त विमान तथा मिग-29 लड़ाकू विमान भी इस अभ्यास में भाग ले रहे हैं।

भारतीय नौसेना के पश्चिमी बेड़े के फ्लैग ऑफिसर कमांडर Real Admiral M A Hampiholi  इस अभ्यास में भारत का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति Emmanuel Macron ने गत 10 मार्च को अपने संयुक्त बयान में VARUNA-18 नौसैन्य अभ्यास की चर्चा की थी। उन्होंने बताया कि VARUNA-18 तीन समुद्री क्षेत्रों-अरब सागर, बंगाल की खाड़ी और दक्षिण-पश्चिमी हिन्द महासागर में संचालित किया जाएगा।

फ्रांस का नेतृत्व कर रहे Real Admiral Didier Piaton ने कहा कि भारत हिन्द महासागर क्षेत्र में फ्रांस का प्रमुक साझेदार है और अंतर्राष्ट्रीय समुद्री मार्गों की सुरक्षा बरकरार रखने के लिए दोनों देशों के बीच समुद्री सहयोग बेहद महत्वपूर्ण है।

Comments

Most Popular

To Top