Featured

भारतीय वायु सेना हमारी सैन्य उत्कृष्टता का प्रतीकः राष्ट्रपति

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

नई दिल्ली। भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को पंजाब के हलवारा में भारतीय वायुसेना के 51 स्क्वाड्रन को ‘स्‍टैंडर्ड’ और 230 सिग्नल यूनिट को ‘कलर्स’ प्रदान किए।





इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि 51 स्क्वाड्रन और 230 सिग्नल यूनिट ने अपने देश की सेवा में खुद को प्रतिष्ठित किया है। इन यूनिटों के पास प्रोफेशनल उत्कृष्टता का एक समृद्ध इतिहास है और इन यूनिटों ने शांति एवं युद्ध के दौरान सम्मान और विशिष्‍टता के साथ भारत की सेवा की है। उन्‍होंने कहा कि इन यूनिटों के समर्पण, प्रोफेशनल आचरण और अदम्‍य साहस को देखते हुए इन्‍हें सम्मानित करने की दृष्टि से उनके लिए गर्व का क्षण है। उन्होंने राष्ट्र की नि:स्वार्थ सेवा और बलिदान के लिए इन यूनिटों के भूतपूर्व और वर्तमान कर्मियों एवं उनके परिवारों की भूरि-भूरि प्रशंसा की।

एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ

राष्ट्रपति ने कहा कि भारतीय वायु सेना हमारी सैन्य उत्कृष्टता का प्रतीक है। उन्‍होंने कहा कि देश-विदेश में आयोजित अभ्यास में भारतीय वायुसेना के कर्मियों का उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन इसके उच्च मानकों का एक देदीप्यमान प्रमाण है। राष्ट्रपति ने कहा कि  भारतीय वायुसेना देश के संप्रभु आकाश की सुरक्षा करने के अलावा मानवीय सहायता और आपदा राहत अभियानों में भी हमेशा सबसे आगे रहती है।

एयर चीफ ने चीन के दावे को नकारा, ‘जे-20 विमान को कैप्चर कर सकते हैं हमारे राडार’

उन्‍होंने कहा कि हमारे देश के पराक्रमी वायु योद्धाओं का लचीलापन, दृढ़ता और उत्साह हर भारतीय के लिए गर्व का स्रोत है।

Comments

Most Popular

To Top