Featured

भारत को मिल सकती है इजराइल की ‘एंटी टैंक गाइडेड स्पाइक’ मिसाइल, नए सिरे से डील

नई दिल्ली। इजराइल की ‘एंटी टैंक गाइडेड  स्पाइक’ मिसाइल डील को लेकर को लेकर दोनों देशों में नए तौर से बातचीत होने की उम्मीद जताई जा रही है। सूत्रों के मुताबिक भारत और इजराइल के प्रधानमंत्रियों के अलावा दोनों देशों के सुरक्षा स्तर के शीर्ष अधिकारियों ने रविवार को एक लंबी मुलाकात की, जो देश की सुरक्षा के लिहाज से बेहद अहम है। बताया जा रहा है कि इस बैठक में दोनों देशों के अधिकारियों के बीच सुरक्षा से जुड़े कई मुद्दों पर गहन बातचीत हुई।





इजराइली प्रधानमंत्री का भारत दौरा हो सकता है फायदेमंद

सूत्रों के मुताबिक बातचीत के दौरान दोनों देशों के बीच ‘एंटी टैंक गाइडेड  स्पाइक’ को लेकर विचार-विमर्श हुआ।गौरतलब है कि एंटी टैंक गाईडेड स्पाइक मिसाइल करार कुछ समय पहले भारत ने रद्द कर दिया था। लेकिन नेतन्याहू के दौरे से पहले भारतीय सेना और सरकार ने स्पाइक करार पर फिर से विचार करने का संकेत दिया था।

स्पाइक डील पर हो सकता है नए सिरे से विचार

जानकारी दे दें कि स्पाइक इजराइल की सरकारी डिफेंस कॉन्ट्रैक्टर है। इस करार के तहत भारत और इजरायल के बीच यह सहमति बनी थी कि भारतीय सेना इजराइल से 8000 स्पाइक मिसाइल खरीदेगी। इसकी कीमत 50 करोड़ डॉलर आंकी गई थी। लेकिन भारत ने आधिकारिक तौर पर इस सौदे को रद कर दिया था। भारत जहां घरेलू तकनीकी पर आधारित एंटी टैंक मिसाइल बनाने की दिशा में काम तेज कर चुका है,  लेकिन सेना में इसे जल्द से जल्द शामिल करने को देखते हुए स्पाइक पर नए सिरे से विचार किया जा रहा है।

खबरों के मुताबिक इस करार में भारत की ओर से दो मुख्य शर्तें रखी गई हैं। पहली कि इजराइल मिसाइल का निर्माण भारत में होगा और दूसरी शर्त ये कि इजराइल इस मिसाइल को बनाने की तकनीक भारत के साथ साझा की जाएगी।

इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू अपने 6 दिवसीय दौरे पर भारत आए हुए हैं।  उनके साथ एक बड़ा दल भी भारत आया है, जिसमें स्पाइक मिसाइल बनाने वाली कंपनी के सीईओ भी शामिल हैं। बताय जा रहा है कि भारत व इजरायल के बीच सोमवार को हुई आधिकारिक उच्चस्तरीय वार्ता में पीएम नेतन्याहू ने स्पाइक डील का मुद्दा उठाया।

Comments

Most Popular

To Top