Featured

घाटी में संपादक को भी गोलियों से भून डाला

श्रीनगर। आतंकवादियों ने श्रीनगर में सीनियर पत्रकार और सूबे के चर्चित अखबार ‘राइजिंग कश्मीर’ के संपादक सुजात बुखारी की गुरुवार को गोली मारकर हत्या कर दी। राज्य में सत्तारूढ पार्टी पीडीपी के प्रवक्ता ने बताया कि शाम 7:15बजे इफ्तार पार्टी  में जाने के लिए  श्रीनगर के लालचौक  इलाके के प्रेस काॅलोनी स्थित अपने दफ्तर से बाहर निकल रहे थे। उसी समय मोटरसाइकिल सवार हमलावर ने उन्हें गोली मारी। सुजात बुखारी पर वर्ष 2000 में भी आतंकियों ने हमला किया था। उस समय वह बाल-बाल बच गए थे। इस हमले के बाद से जम्मू कश्मीर पुलिस ने उन्हें सुरक्षा उपलब्ध करा रखी थी।





सुजात बुखारी से आतंकवादी इसलिए काफी नाराज थे कि वह घाटी में शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में जोर शोर से लगे हुए थे। गृह मंत्री राजनाथ सिंह, राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफती, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने हत्या की निंदा की है और संपादक सुजात बुखारी के प्रति संवेदनाए व्यक्त की है।

प्रेस क्लब आॅफ इंडिया ने भी की निंदा

प्रेस क्लब आॅफ इंडिया की मैनेजिंग कमैटी ने कहा है कि रमजान के पवित्र महीने में सुजात बुखारी की आतंकी हमले में की गई हत्या की प्रेस क्लब आॅफ इंडिया घोर निंदा करता है। इस घटना से पता चलता है कि पत्रकारों की सुरक्षा को बड़ा खतरा है। घाटी में शांति बहाली की दुश्मन ताकतों ने शांति की एक आवाज को खामोश कर दिया है।

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने भी पत्रकार सुजात बुखारी की हत्या की निंदा की है।

Comments

Most Popular

To Top