Featured

नक्सलियों के बीच बेखौफ लेडी कमांडोज, इनकी नक्सली मूवमेंट पर रहती है पैनी नजर

Lady-Commandos

बस्तर। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के बीच बेखौफ महिला कमांडों एक अहम जिम्मेदारी निभाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रही है। नक्सली भले ही आए दिन कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं इसके बावजूद ये महिला कमांडोज प्रमुख सड़कों पर तैनात रहते हुए सड़क निर्माण में काफी मदद कर रही हैं।





बता दें कि इन महिला कमांडोज को घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों जैसे सुकमा, बीजापुर और दंतेवाड़ा में तैनात किया गया है। यही नहीं, इन महिला जवानों ने एक दर्जन से ज्यादा महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण में सुरक्षा देने की जिम्मादारी ली है। इन विकास कार्यों में नक्सली अकसर बाधा पहुंचाने की कोशिश में रहते हैं। जाबांज महिला कमांडोज दिन-रात अपने जान पर खेलकर तैनात रहती हैं।

एक प्लाटून में 36 महिला कमांडो हैं। एक अखबार के मुताबिक कमांडो दिव्यावती ने कहा कि मैं एक पुलिस परिवार से हूं। वे सभी एक सिपाही के जीवन को भलीभांति समझती हैं। मेरे परिवार में हर समय मेरी चिंता लगी रहती है, पर उनकी सुरक्षा के लिए मेरा जंगल में रहना बेहद जरूरी है। दिव्यावती ने बताया कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में तैनात महिला कमांडो को कई ऑपरेशन के लिए प्रशिक्षित किया गया है।

महिला कमांडो की पहली प्लाटून बीजापुर जिले में वर्ष 2017 में बनाई गई थी। बस्तर पुलिस के सीनियर अधिकारियों ने कहा कि इन महिला कमांडोज को विशेष ट्रेनिंग दिया गया है। पहले चरण में 90 महिला जवानों को नॉर्थ ईस्ट के पुलिस कैंप में भेजकर जंगल में लड़ने की बारीक जानकारी भी प्रदान की गई है। पुलिस मुख्यालय के सीनियर ऑफिसर्स ने बताया कि महिला कमांडोज सड़क निर्माण के समय नक्सलियों के मूवमेंट की जानकारी लेकर जंगलों में भी उतर जाती हैं। कई बार तो महिला कमांडो पूरे दिन जंगलों में नक्सलियों के ठिकाने की खाक छानती हैं और फिर देर शाम को ही अपने-अपने कैंप में लौटती हैं।

सूत्रों के अनुसार पुलिस और सुरक्षा बलों पर नक्सलियों के खिलाफ अभियान में महिलाओं के साथ यौन-उत्पीड़न और रेप के आरोप लगाए जाते थे, लेकिन महिला कमांडोज की तैनाती के बाद ऐसे आरोप लगने भी कम हो गए हैं।

ऑफिसरों का कहना है कि महिला कमांडो ने ग्रामीणों के साथ एक अच्छा रिश्ता भी बना लिया है। उन्होंने कहा कि नक्सली बाधा न उत्पन्न करें जिसके लिए मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हर वक्त महिला कमांडो तैनात रहती हैं।

Comments

Most Popular

To Top