Featured

भारत और मलेशिया के बीच हरिमऊ अभ्यास शुरू

हरिमाऊ युद्धाभ्यास

नई दिल्ली।  भारत औऱ मलेशिया की थलसेनाओं के बीच दो सप्ताह तक चलने वाला साझा युद्धाभ्यास हरिमऊ शक्ति मलेशिया की राजधानी क्वालालम्पुर के निकट वारदयेबर्न कैम्प में 30 अप्रैल से शुरू हुआ। यह अभ्यास एक छोटे लेकिन आकर्षक समारोह के साथ शुरु हुआ। मलेशियाई थलसेना की रायल रेंजर रेजीमेंट के कमांडिग अफसर लेफ्टिनेंट कर्नल इरवान इब्राहीम ने भारतीय सैन्य टुकड़ी का स्वागत किया और उम्मीद  जाहिर की कि भारतीय और मलेशियाई सेनाओं के  बीच परस्पर लाभजनक साझा युद्धाभ्यास सफलता से सम्पन्न होगा।





दो सप्ताह तक चलने वाले अभ्यास का पहला चरण भारतीय सैन्य टुकडी द्वारा मलयेशियाई सेना को रेजीमेंटल ध्वज के सौंपने के साथ शुरु हुआ। यह इस बात का प्रतीक था कि दोनों सैन्य टुकड़ी एक कमांडर के तहत विलय कर गईं। दोनों पक्षों के सैनिकों को अभ्यास की रुपरेखा और कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी गई। पहले दिन के मेलजोल के बाद दोनों पक्षों के बीच वालीबाल मैच का भी आयोजन हुआ जिसमें  कड़ी होड़ के बाद भारतीय टीम अंततः विजयी रही।

इस अभ्यास के दौरान दोनों सेनाएं प्रति आतंकवाद औऱ प्रतिविद्रोही कार्रवाई में अपने रणनीतिक और समाघात कौशल को समृद्ध करेगे। इस तरह की सैन्य कार्ऱवाई संयुक्त राष्ट्र के निर्देशों के  तहत की जाती है।  इस दौरान इस बात की कोशिश होगी कि दोनों सेनाएं आपस में सहयोगी भूमिका में तालमेल से ल़ड़ने के लिये एक दूसरे के गुर सीखें।

इस बारे में यहां थलसेना के प्रवक्ता ने बताया कि हरिमऊ अभ्यास भारत और मलेशिया के बीच दिवपक्षीय रिश्तों को और मजबूत करेगा। भविष्य में इस तरह के अभ्यास जारी रहेंगे तो दोनों देशों के बीच मैत्री और सहयोग की गांठें और मजबूत होंगी।

Comments

Most Popular

To Top