Featured

असम में लोगों को लाइन में खड़ा किया और फिर बरसा दीं गोलियां, 5 की मौत

असम में बढ़ा विवाद

गुवाहाटी। असम के तिनसुकिया जिले में गुरुवार को संदिग्ध उग्रवादियों ने पांच लोगों की हत्या कर दी। मारे गये लोगों में से तीन एक ही परिवार के हैं। चश्मदीदों के मुताबिक हथियारों से लैस कुछ व्यक्तियों ने लोगों को उनके घर से बाहर बुलाया और फिर एक लाइन में खड़ा कर गोलियों से भून दिया।





वारदात तिनसुकिया से 30 किलोमीटर दूर एक गांव में हुई। पुलिस के मुताबिक अत्याधुनिक हथियारों से लैस हमलावर ‘Kherbari Bisonibari’ इलाके में पहुंचे और पांच से छह लोगो को उनके घर से बाहर बुलाया। लोगों के बाहर आने के बाद हमलावरों ने उन पर अंधाधुंध गोलियों की बरसात कर दी और फिर मौके से फरार हो गये। पुलिस के एक सीनियर अफसर के मुताबिक पांच लोगों की वहीं मौत हो गई। वारदात में घायल लोगों को तिनसुकिया सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस को इस हत्याकांड के पीछे उग्रवादियों का हाथ होने का शक है।

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस घटना की निंदा करते हुए ट्वीट किया, इस घटना के बारे में मैंने असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल से बात की है और उनसे इस जघन्य वारदात में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है।

वहीं असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने घटना की निंदा करते हुए कहा है कि इस घटना के साजिशकर्ताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। ऐसी कायराना हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी।

इधर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट किया-क्या यह हालिया एनआरसी घटनाक्रम का परिणाम है। ममता बनर्जी ने घटना की निंदा करते हुए मृतकों के शोकाकुल परिवारों के प्रति सहानुभूति प्रकट की।

 

Comments

Most Popular

To Top