Featured

इजराइल से रिश्तों में खेती एक नया आयाम

भारत-इसराइल का फ्लैग

नई दिल्ली। भारत और इजराइल के रिश्तों में रक्षा के बाद कृषि सहयोग एक मजबूत आधार बनता जा रहा है। इजराइल में 8 मई से शुरू  हो रही एक्रीटेक-2018 रक्षा प्रदर्शनी में भारत से एक सौ से अधिक कम्पनी प्रतिनिधियों और हरियाणा के मुख्यमंत्री के अलावा पंजाब और अन्य राज्यों के आला अधिकारियो की भागीदारी इस बात का प्रतीक है।





प्रदर्शनी में हरियाणा के मुख्य मंत्री मनोहर लाल खट्टर के अलावा पंचायती राज्य मंत्री परषोत्तम रुपाला, महाराष्ट्र के कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर और पंजाब से सीनियर अधिकारियों की भागीदारी का यहां इजराइली राजदूत डेनियल कार्मन ने स्वागत किया है। दो दिनों के इस सम्मेलन और प्रदर्शनी में भारत से एक हजार से अधिक प्रतिनिधि भाग लेंगे। इस सम्मेलन और प्रदर्शनी और सम्मेलन का मुख्य विचारणीय विषय सूखे इलाके में खेती है। भारत के ब़ड़े इलाके में सूखे की स्थिति के मद्देनजर यह सम्मेलन भारतीय किसानों के लिये काफी अहमियत रखता है।

राजदूत कार्मन ने इस सम्मेलन के पहले कहा कि भारत और इजराइल के बीच गहराते रिश्तों में कृषि एक मुख्य़ खम्भा है। हम कृषि क्षेत्र में भारत के विभिन्न राज्यों के साथ सहयोग गहरा करने की उम्मीद करते हैं। भारत के कृषि क्षेत्र में इजराइली कृषि तकनीक का इस्तेमाल पहले से ही चल रहा है।

 

Comments

Most Popular

To Top