Featured

पूर्व सैनिकों ने निकाला पत्थरबाजों के खिलाफ कैंडल मार्च

कैंडिल मार्च

नई दिल्ली। सेना व सुरक्षा बलों पर लगातार हमला करने वाले पत्थरबाजों के खिलाफ विरोध जताने के लिए ‘वेटरंस इंडिया’ ने कैंडल मार्च निकाला। इस मार्च का उद्देश्य था सैनिकों की प्रतिबद्धता, पराक्रम व शौर्य के ऊपर किये जाने वाले प्रहार का विरोध।





कैंडल मार्च की शुरुआत नई दिल्ली के मंडी हाउस से हुई औऱ समापन इंडिया गेट पर शहीद सिपाही राजेन्द्र कुमार को श्रद्धांजलि देकर हुआ। इस अवसर पर रैली को संबोधित करते हुए संस्था के अध्यक्ष विनय कुमार मिश्र ने कहा कि देश की जो रक्षा करता है उसकी रक्षा की जिम्मेदारी केन्द्र सरकार औऱ देश के 136 करोड़ नागरिकों की है। पर खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि सरकार और समाज इस ओर ध्यान नहीं दे रहे। आगे चलकर यह राष्ट्र के लिए ठीक नहीं होगा।

सभा को संबोधित करते हुए जनरल (सेवा निवृत्त) जीडी बख्शी ने कहा कि सरकार पत्थरबाजों को आतंकवादी घोषित करे और उनके साथ वही व्यवहार हो जैसा आतंकवादियों के साथ होता है। कर्नल (सेवा निवृत्त) एचवी शर्मा ने कहा कि राष्ट्र कब तक आतंकवादियों और पत्थरबाजों के आतंक को झेलेगा। फौजी अपना घर-परिवार छोड़कर राष्ट्र और सरहद की हिफाजत के लिए तैनात हैं पर वह खुद असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। यह देश के लिए ठीक नहीं है।

कैंडल मार्च में काफी संख्या में दिल्ली और आसपास के पूर्व सैनिक और आम नागरिक शामिल हुए।

Comments

Most Popular

To Top