Featured

चीन ने जापानी क्षेत्र के ऊपर उड़ाए लड़ाकू विमान

चीन का लड़ाकू विमान
चीन की वायुसेना ने विवादित दक्षिण चीन सागर के ऊपर अभ्यास किया (फाइल)

पेइचिंग। अपनी सैन्य ताकत बढ़ाने में लगे चीन की वायुसेना ने विवादित दक्षिण चीन सागर के ऊपर अभ्यास किया है। मीडिया खबरों के मुताबिक चीन जापान के दक्षिणी द्वीप समूहों और पश्चिमी प्रशांत महासागर के ऊपर भी अपने कई लड़ाकू विमान उड़ाए। माना जा रहा है कि चीन के इस अभ्यास से क्षेत्र में तनाव पैदा हो सकता है। जापान, वियतनाम और अमेरिका चीन के इस अभ्यास का विरोध कर सकते हैं। कुछ ही समय पहले अमेरिका की नौसेना ने भी इस इलाके में अभ्यास किया था। चीन का कहना है कि वह यह अभ्यास अपनी ताकत बढ़ाने के लिए कर रहा है और सैन्य अभ्यास के पीछे उसकी कोई गलत नीयत नहीं है।





गौरतलब है कि अपने राष्ट्रपति शी चिनफिंग की अगुआई में सेना के आधुनिकीकरण के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के तहत चीन का मुख्य फोकस वायुसेना और नौसेना के आधुनिकीकरण पर है। वह अपनी वायुसेना और नौसेना को ताकतवर बनाने के लिए नए स्टील्थ फाइटर जेट और एयरक्राफ्ट कैरियर्स को शामिल कर रहा है।

हालांकि सैन्य अभ्यास के बारे में चीन का कहना है कि इसके पीछे उसकी गलत नीयत नहीं है लेकिन जानकारों का मानना है कि दक्षिण चीन सागर और ताइवान के आसपास उसकी गतिविधियों की धमक अमेरिका तक पहुंच रही है। चीनी वायुसेना के मुताबिक इस अभ्यास में उसने H-6K, Su-30 और Su-35 लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल किया। गत शुक्रवार को अमेरिकी नौसेना का एक विध्वंसक फ्रीडम ऑफ नेविगेशन के तहत दक्षिण चीन सागर में चीन के बनाए गए कृत्रिम द्वीप के बेहद करीब से गुजरा था जिससे चीन भड़क गया था और उसने अमेरिका की आलोचना की थी।

Comments

Most Popular

To Top