Featured

सीजफायर खत्म होते ही सुरक्षाबलों बलों का ऑपरेशन ऑलआउट, बांदीपुरा में 4 आतंकी ढेर

भारतीय सेना

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर में रमजान के दौरान आतंक के खिलाफ ऑपरेशन रोकने की मियाद केंद्र द्वारा खत्म करने के बाद राज्य में सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन ऑलआउट फिर से शुरू कर दिया है। लगभग एक महीने के सीजफायर के दरम्यान राज्य में आतंकी गतिविधियों में काफी बढ़ोत्तरी देखने को मिली थी। 28 जून से आरंभ हो रही अमरनाथ यात्रा के मद्देनजर केंद्र सरकार ने इसे आगे नहीं बढ़ाने का फैसला किया था।





मालूम हो कि सेना ने भी केंद्र से ऑपरेशन रोकने की मियाद नहीं बढ़ाने की अपील की थी। सेना ने संघर्ष विराम खत्म होते ही सोमवार को बिजबेहरा में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑलआउट शुरू कर दिया है। कुछ आतंकियों के बिजबेहरा इलाके में छिपे होने की सूचना के बाद सेना ने इलाके को घेर रखा है। वहीं, बांदीपोरा में सैन्यकर्मियों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में अब तक 04 आतंकी मारे गए हैं। मुठभेड़ अभी जारी है।

सोमवार को सुरक्षा बलों को बिजबेहारा इलाके में आतंकियों के मौजूद होने की खबर मिली। इसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया और सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। 16 मई को केंद्र सरकार ने कश्मीर में रमजान के महीने में शांति की पहल पर ऑपरेशन को रोकने का आदेश दिया था।

ईद के बाद सरकार ने इसे हटा लिया है और सुरक्षाबलों को फिर से आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑलआउट शुरू करने का आदेश जारी किया है। आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने बिजबेहारा में पहला ऑपरेशन शुरू किया।

केंद्र सरकार ने रविवार को रमजान का पाक महीना खत्म होने के साथ ही जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों के ऑपरेशन पर लगी रोक को हटा दिया। गृह मंत्रालय ने शांति बहाल करने को लेकर रमजान के महीने में सीजफायर लागू किया था, पर आतंकियों ने अपने नापाक हरकतों से इस पर पानी फेर दिया। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने आतंकियों द्वारा जारी हिंसा के बीच रविवार को जम्मू-कश्मीर में घोषित एकतरफा सीजफायर को विस्तार न देने का फैसला किया है। यह संघर्षविराम रमजान के महीने के दौरान प्रदेश में 16 मई को घोषित किया गया था। बता दें कि 17 मई से 14 जून के बीच जम्मू-कश्मीर में कुल 62 आतंकी घटनाएं हुईं।

 

Comments

Most Popular

To Top