Featured

वायुसेना की हिमालय पर अनूठी साइकिल यात्रा, एयर चीफ ने टीम को किया सम्मानित

IAF Cycling Team

नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना की 86वीं वर्षगांठ पर भारतीय वायुसेना के जाबांजों ने एक अनूठी साइकिल यात्रा संपन्न की। यह यात्रा लद्दाख में दौलत बेग ओल्डी (DBO) से शुरू हुई थी तथा इसने अरुणाचल प्रदेश के किबिथू तक 4,200 किलोमीटर का सफर तय किया।





यह ट्रांस हिमालयन अभियान ग्लोबल वार्मिंग के प्रति जागरुकता बढ़ाने के उद्देश्य से किया गया। दो महिला अफसरों समेत 16 वायु योद्धाओं ने गत 18 अगस्त को विश्व की सर्वाधिक ऊंची पट्टी पर स्थित दौलत बेग ओल्डी से यात्रा शुरू की थी। दौलत बेग ओल्डी औऱ किबिथू क्रमशः उत्तर और पूर्व में भारत की दो सबसे ऊंची चौकियां हैं। और यह समुद्र तल की ऊंचाई से क्रमशः 16,614 तथा 4,070 फीट की ऊंचाई पर स्थित हैं।

सदस्यों ने यह यात्रा चार अक्टूबर को पूरी की। इस अभियान के दौरान मूसलाधार बारिश, तेज हवाएं, चरम तापमान, उबड़-खाबड़ इलाके से संबंधित बातों को टीम ने साझा किया। टीम ने यह बात भी साझा की कि जटिल परिस्थितियों में कैंपिंग करने, बर्फ-बारिश तथा प्रतिकूल परिस्थितियों में जीवित रहने के लिए इस तरह के उपक्रम किए।

टीम का नेतृत्व विंग कमांडर एएस शरतचंद्र ने किया। उनकी सहायता के लिए दो महिला अधिकारी स्कवाड्रन ग्रेष्मा और स्कवाड्रन लीडर परीबाषा थीं। जिन्होंने न केवल इस ऐतिहासिक उपलब्धि को पूरा किया बल्कि एक अनुकरणीय उदाहरण स्थापित किया।

हिमालय क्षेत्र में अपने किस्म का यह अनूठा अभियान था। अभियान के सफल समापन पर वायुसेना के प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी. एस. धनोआ ने दल को नई दिल्ली में सम्मानित किया।

Comments

Most Popular

To Top