Featured

ITBP के सब इंस्पेक्टर मंगल सिंह की मौत के बाद घोड़े भी सदमे में, नहीं खा रहे चारा

मंगल सिंह

उना। भारत तिब्बत बॉर्डर पुलिस (ITBP) के सब इंस्पेक्टर मंगल सिंह की मृत्यु से उन जानवरों को भी गहरा सदमा लगा है जिन्हें वह ट्रेनिंग देते थे। बता दें कि मंगल सिंह (47 वर्ष) की गत सोमवार को दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई थी। उनकी मृत्यु के बाद अरुणाचल प्रदेश के लोहितपुर में मौजूद घोड़ों ने खाना-पीना छोड़ दिया। घोड़े मंगल सिंह की भाषा कितनी समझ पाते थे कह नहीं सकते लेकिन उनके इशारों को वह बखूबी समझते थे। और एक बात जो घोड़ों और मंगल सिंह को जोड़ती थी वह था घोड़ों के प्रति मंगल सिंह का प्रेम।





एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में मंगल सिंह के सहकर्मी बताते हैं- वह आईटीबीपी के सर्वश्रेष्ठ एनिमल ट्रेनर में से एक थे। जानवरों और मंगल सिंह के बीच एक खास किस्म का ‘रिश्ता’ था। खिलाते-पिलाते और ट्रेनिंग के दौरान मंगल सिंह जानवरों से बातचीत भी करते थे।

सोमवार को एनिमल ट्रेनिंग सेंटर में मंगल सिंह ने सुबह लगभग छह बजे उन्होंने जानवरों का चारा खिलाया और एक घंटे बाद दिल का दौरा पड़ने से उनकी मृत्यु हो गई। एक अधिकारी के मुताबिक जानवरों को यह कहीं न कहीं महसूस हो गया था कि मंगल सिंह के साथ कुछ हुआ है वरना क्या वजह है कि दोपहर और शाम को जानवरों को चारा दिया गया लेकिन उन्होंने उसे मुंह तक नहीं लगाया। अगले दिन भी उन्होंने सिर्फ आधा-अधूरा ही खाया। मंगल सिंह की कमी उन्हें खल रही है।

मंगल सिंह का गांव में हुआ अंतिम संस्कार

बुधवार को मंगल सिंह का पार्थिव शरीर उना स्थित उनके पैतृक निवास लाया गया और पूरे सैन्य सम्मान के साथ उन्हें विदाई दी गई। ITBP के डीआईजी और पशु चिकित्सक सुधाकर नटराजन कहते हैं कि जानवरों ने अपना सर्वश्रेष्ठ दोस्त को दिया है और ITBP ने अपना महान जवान। मंगल सिंह ने काबुल पोस्टिंग के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। मंगल सिंह काबुल में भारतीय दूतावास में (ITBP Dog Squad) K9 कमांडर थे। इन्हीं की ट्रेनिंग में तैयार हुई क्वीन नाम की डॉग ने भारतीय दूतावास को हमले से बचाया था। क्वीन ने RDX को पहचान लिया था। यह इतना शक्तिशाली था कि पूरे दूतावास को उड़ा सकता था। मंगल सिंह को कई पुरस्कार भी मिले थे।

मंगल सिंह के परिवार में उनकी पत्नी सुरेश देवी और दो बेटे हैं। एक बेटा दसवीं और दूसरा आठवीं में पढ़ रहा है।

 

Comments

Most Popular

To Top