Featured

रिटायर्ड सैनिकों के लिए विशेष पहचान पत्र, किसी भी अस्पताल में करा सकेंगे अपना इलाज

रिटायर्ड फौजी
रिटायर्ड फौजी (प्रतीकात्मक)

बिलासपुर। रक्षा मंत्रालय के निर्देश पर सेवानिवृत्त फौजियों के लिए खास तरह का चिप लगा ‘पहचान पत्र’ बनाया जा रहा है। फौजी इस कार्ड के बनने के बाद देश के किसी भी कोने में संचालित अस्पताल में अपना इलाज करा सकेंगे। जरूरी बात यह है कि इलाज के लिए केंद्र सरकार ने कोई सीमा तय नहीं की है। रिटायर्ड फौजियों के इलाज में भी खर्च होने वाली राशि का केंद्र सरकार वहन करेगी।





रिटायर्ड सैनिकों के बुरे समय में केंद्र सरकार ने साथ देने की योजना बनाई है। मंत्रालय के निर्देश पर रिटायर्ड फौजियों के लिए चिप लगा विशेष प्रकार का कार्ड बनाया जा रहा है। इस कार्ड को उनके आधार नंबर से लिंक किया जाएगा। विशेष प्रकार के चिप लगे कार्ड में फौजी की पूरी बायोग्राफी सहित पत्नी, बेटा, बहू व बेटी अगर अविवाहित है तो उनका भी कार्ड में उल्लेख रहेगा। विशेष प्रकार के कार्ड को स्वेप करते ही रिटायर्ड फौजी की पूरी जानकारी कंप्यूटर स्क्रीन पर जाएगी।

चिप युक्त कार्ड से फौजी देश के किसी भी कोने में बेहतर इलाज करा सकेंगे। सेवानिवृत्त फौजी व परिजनों के इलाज में जितनी राशि खर्च होगी सब केंद्र सरकार वहन करेगी। जिला कल्याण सैनिक बोर्ड बिलासपुर के कल्याण संयोजक शिवेंद्र पांडेय ने कहा कि केंद्र सरकार के निर्देश पर रिटायर्ड सैनिकों के लिए खास चिप से देश के किसी भी कोने में इलाज कराने की सुविधा मिलना प्रारंभ हो जाएगी, इसकी राशि केंद्र सरकार वहन करेगी।

चिप युक्त कार्ड से फौजी देश के किसी भी कोने में बेहतर इलाज करा सकेंगे। रिटायर्ड फौजी व परिजनों के इलाज में जितनी राशि खर्च होगी सब केंद्र सरकार वहन करेगी। जिला कल्याण सैनिक बोर्ड बिलासपुर के कल्याण संयोजक शिवेंद्र पांडेय ने कहा कि केंद्र सरकार के निर्देश पर रिटायर्ड सैनिकों के लिए विशेष चिप से देश के किसी भी कोने में इलाज कराने की सुविधा मिलना प्रारंभ हो जाएगी, इसकी राशि केंद्र सरकार वहन करेगी।

रक्षक न्यूज की राय:

अवकाश प्राप्त कर लाखों-लाख फौजियों के लिए यह एक अच्छी खबर है। खास बात यह है कि इलाज के दौरान जो भी खर्च आएगा उसका वहन केंद्र सरकार करेगी। आज पूरे देश के अधिकांश अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्था स्तरीय न होने की वजह से सेवानिवृत्त सैन्यकर्मियों को भी अच्छा इलाज सुलभ नहीं हो पाता। नई व्यवस्था से स्थिति बेहतर होगी।

Comments

Most Popular

To Top