Featured

गांधी जयंती पर तिहाड़ जेल से बाहर आएंगे 30 कैदी

तिहाड़ जेल

नई दिल्ली। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर तिहाड़ जेल के 30 कैदी रिहा किए जाएंगे। केन्द्र सरकार की एक योजना के तहत यह निर्णय लिया गया है कि वे कैदी जिनका आचरण जेल में अच्छा रहा या जो सजा की आधी अवधि पूरी कर चुके हैं, उन्हें रिहा किया जायेगा।





इससे संबंधित फाइल वरिष्ठ अधिकारियों को भेज दी गई है और इस पर तेजी से काम चल रहा है। सूत्र बताते हैं कि भविष्य में चयनित ऐसे कैदियों की संख्या बढ़ सकती है जिनका बात-व्यवहार सजा के दौरान जेल परिसर में अच्छा रहा।

केन्द्र सरकार की योजना के तहत कैदियों को रिहा करने की नीति को तीन चरणों में लागू किया जाना है। पहले चरण में बापू की 150वीं सालगिरह पर तिहाड़ के 30 कैदी रिहा किए जाएंगे।

माफी नीति से भविष्य में और अधिक कैदियों के जेल से बाहर निकलने का मार्ग प्रशस्त हो सकता है। फिलहाल सेंट्रल जेल तिहाड़ में 14हजार कैदी हैं। और ये क्षमता से अधिक हैं। अगर कैदियों की रिहाई की संख्या बढ़ती है तो इससे जेल के संसाधनों पर बोझ कम होगा। और कैदियों की देखभाल में आसानी होगी।

केन्द्र सरकार की इस योजना से इन कैदियों को लाभ मिलेगा- ऐसी महिला जिसकी आयु 55 वर्ष हो और सजा की आधी अवधि पूरी कर ली हो, किन्नर जिनकी आयु 55 वर्ष हो, पुरुष कैदी जिनकी उम्र 60 वर्ष या इससे अधिक हो औऱ सजा की आधी अवधि पूरी हो चुके हों, दिव्यांग जिन्होंने सजा की आधी अवधि पूरी कर ली हो और गंभीर रूप से बीमार कैदी।

 

Comments

Most Popular

To Top