C P O

‘एक साल में 383 पुलिसकर्मियों ने कर्तव्य के लिए दिया बलिदान’

नई दिल्ली। देश सुरक्षा और अखंडता के मद्देनजर हजारों सुरक्षाकर्मियों ने अपनी जानें न्यौछावर कर दीं। खुफिया ब्यूरो के निदेशक (डीआईबी) राजीव जैन के मुताबिक पिछले एक साल में ड्यूटी करते हुए 383 पुलिसकर्मियों ने अपने कर्तव्य के लिए जीवन का बलिदान दिया जिसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के 56 जवान और जम्मू-कश्मीर पुलिस के 42 पुलिसकर्मी शामिल थे। उन्होंने कहा कि आजादी से अब तक 34,418 सुरक्षाकर्मियों ने देश और लोगों की हिफाजत करते हुए शहीद हुए।





पुलिस स्मृति दिवस को संबोधित करते हुए जैन ने कहा कि सितंबर 2016 से अगस्त 2017 तक देशभर में कर्तव्यों का पालन करते हुए 383 पुलिसकर्मियों ने शहादत को गले लगा लिया। इन शहीदों में यूपी पुलिस के 76, बीएसएफ के 56, सीआरपीएफ के 49, जम्मू-कश्मीर पुलिस के 42, छत्तीसगढ़ के 23, पश्चिम बंगाल के 16, दिल्ली और सीआईएसएफ के 13-13, बिहार और कर्नाटक के 12-12 और आईटीबीपी के 11 जवान शामिल हैं।

इनमें अधिक्तर सुरक्षाकर्मी पाकिस्तान की ओर से सीमा पार से होने वाली फायरिंग में, कश्मीर में आतंकवाद से लड़ते हुए, नक्सलियों का सामना करते हुए और कानून-व्यवस्था से जुड़े फर्ज निभाते हुए शहीद हुए हैं। पुलिस स्मृति दिवस (21 अक्तूबर) 1959 में चीनी सैन्य टुकड़ियों द्वारा की गई फायरिंग में शहीद हुए 10 सुरक्षाकर्मियों और भारत की एकता-अखंडता की रक्षा करते हुए अपना बलिदान देने वाले 34 हजार अन्य को श्रद्धांजलि देने के लिए मनाया जाता है।

Comments

Most Popular

To Top