CBI

CBI  में घमासान के बीच नागेश्वर बनाए गए अंतरिम निदेशक, चार्ज लेते ही दिखे एक्शन में

आलोक वर्मा, नागेश्वर राव, राकेश अस्थाना

नई दिल्ली। सीबीआई में शीर्ष अफसरों के बीच जारी जबरदस्त रस्साकशी के बीच केंद्र ने मामले में दखल देते हुए सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को छुट्टी पर भेज दिया है। इसी के साथ ही ज्वाइंट डायरेक्टर नागेश्वर राव को सीबीआई का अंतरिम डायरेक्टर का कार्यभार सौंपा गया है। अब वह सीबीआई के कामकाज के साथ-साथ इस मामले की भी जांच करेंगे। 1986 बैच के ओडिशा कैडर के आईपीएस अधिकारी राव तेलंगाना के वारंगल जिले के रहने वाले हैं।





कार्यभार संभालते ही नागेश्वर राव ने कड़ा रुख अख्तियार किया। राव ने आज (बुधवार) सुबह ही ज्वाइंट डायरेक्टर अरुण शर्मा को जेडी पॉलिसी, जेडी एंटी करप्शन हेडक्वॉर्टर से हटा कर SoZ/ZD MDMA नई दिल्ली भेज दिया गया है।

सीबीआई ने राकेश अस्थाना के मामले को फास्ट ट्रैक इन्वेस्टिगेशन में डाल दिया है। इसके अलावा बुधवार सुबह ही सीबीआई ने अपने दफ्तर के 10वें और 11वें फ्लोर को सील कर दिया है।

गौरतलब है कि नागेश्वर राव की पहचान एक कड़े ऑफिसर के तौर पर होती है। उनके कामकाज का ही नतीजा है कि उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार, स्पेशल ड्यूटी मेडल, ओडिशा राज्यपाल पदक समेत कई अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है।

बता दें कि CBI ने रिश्वत लेने के आरोप में अपने ही विशेष निदेशक राकेश अस्थाना सहित दो अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज किया था। CBI ने सोमवार को DSP देवेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया था।

 

Comments

Most Popular

To Top