CBI

अस्थाना CBI स्पे. डायरेक्टर, लखटकिया बने CRPF हेड

आईपीएस राकेश अस्थाना और सुदीप लखटकिया

नई दिल्ली। गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना को सीबीआई का विशेष निदेशक (स्पेशल डायरेक्टर) नियुक्त किया गया है। अस्थाना फिलहाल सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक के तौर पर काम कर रहे थे। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने सीबीआई, आईबी, बीएसएफ और एनआईसीएफएस में आठ अधिकारियों की नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।





सूत्रों के मुताबिक आईपीएस अफसर गुरबचन सिंह को आईबी में विशेष निदेशक नियुक्त किया गया है। उनकी यह नियुक्ति 31 दिसंबर, 2018 अथवा अगले आदेश तक प्रभावी रहेगी। वह फिलहाल खुफिया ब्यूरो में ही अतिरिक्त निदेशक के पद पर कार्यरत हैं।

सीबीआई में अतिरिक्त निदेशक के पद पर कार्यरत अस्थाना को इसी एजेंसी का विशेष निदेशक नियुक्त किया गया है।  नए पद पर उनकी नियुक्ति 31 जुलाई, 2019 अथवा अगले आदेश तक प्रभावी रहेगी। गुजरात कैडर के आईपीएस राकेश अस्थाना अतिरिक्त निदेशक के तौर पर काम करते हुए कई महत्वपूर्ण जांच से जुड़े हुए थे। इसमें अगस्तावेस्टलैंड मामला भी शामिल है।

सुदीप लखटकिया होंगे CRPF के विशेष महानिदेशक

उत्तर प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद को ‘नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ क्रिमिनलॉजी एंड फोरेंसिक साइंस’ (एनआईसीएफएस) में स्पेशल डायरेक्टर बनाया गया है। फिलहाल वह इसी संस्था में निदेशक के पद पर कार्यरत हैं। सुदीप लखटकिया को केन्द्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) में विशेष महानिदेशक के तौर पर नियुक्ति की गई है। उनकी यह नियुक्ति अगले वर्ष 30 नवंबर अथवा अगले आदेश तक प्रभावी रहेगी।

बीएसएफ में अतिरिक्त महानिदेशक के तौर पर सेवा दे रहे आईपीएस अधिकारी ए.पी. माहेश्वरी को इसी बल में विशेष महानिदेशक नियुक्त किया गया है। वह 28 फरवरी, 2021 अथवा अगले आदेश तक इस पद पर रहेंगे आईबी में अतिरिक्त निदेशक के तौर पर कार्य कर रहे आईपीएस अधिकारी अरविंद कुमार की नियुक्ति विशेष निदेशक के तौर पर की गई है। बीएसएफ में अतिरिक्त महानिदेशक के तौर पर सेवा दे रहे आईपीएस अधिकारी राजेश रंजन को विशेष महानिदेशक नियुक्त किया गया है।

प्रशांत भूषण ने किया अस्थाना की नियुक्ति का विरोध 

वहीं, CBI के विशेष निदेशक (स्पेशल डायरेक्टर) नियुक्ति को लेकर आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और देश के जाने माने वकील प्रशांत भूषण ने राकेश अस्थाना की नियुक्ति पर सवाल उठाते हुए कहा कि सीबीआई निदेशक राकेश अस्थाना का नाम स्टर्लिंग बायोटेक की डायरी में हैं जिस पर सीबीआई ने खुद एफआईआर दर्ज की है। इसके बावजूद  केंद्र सरकार ने उनका नाम न केवल आगे किया, बल्कि नियुक्ति के प्रस्ताव को मंदूरी भी दे दी है।

Comments

Most Popular

To Top