CBI

गुजरात दंगा : राघवन हटे, मल्होत्रा एसआईटी चीफ बने

नई दिल्ली। वर्ष 2002 में हुए गुजरात दंगों की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी-SIT) के प्रमुख और पूर्व सीबीआई डायरेक्टर आरके राघवन को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और एसके कौल पीठ ने स्वास्थ्य कारणों से कार्यमुक्त कर दिया। एसआईटी के सदस्य के. वेंकटेशन भी कार्यमुक्त किए गए। उन्हें नागपुर का पुलिस आयुक्त बनाया गया है।





बता दें कि पूर्व IPS अधिकारी राघव कृष्णास्वामी राघवन यानी आरके राघवन केन्द्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के 4 जनवरी 1999 से 30 अप्रैल 2001 तक निदेशक रहे।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि एके मल्होत्रा को एसआईटी का प्रमुख नियुक्त किया गया है जो हर तीन माह पर सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट सौंपेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने गुजरात दंगों में कोर्ट की मदद करने के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे को उनके योगदान के लिए धन्यवाद दिया और सभी नौ केसों के ट्रायल पर संतोष जताया।

उल्लेखनीय है कि 27 फरवरी 2002 की सुबह गोधरा स्टेशन पर कारसेवकों से भरी साबरमती एक्सप्रेस में आग लगा दी गई थी। इसके बाद गुजरात में हुए दंगे में सैकड़ों लोग मारे गए थे। गुजरात की पूर्व मंत्री माया कोडनानी को ट्रायल कोर्ट ने दंगों का दोषी पाते हुए 28 साल की सजा सुनाई थी लेकिन हाईकोर्ट ने खराब स्वास्थ्य को देखते हुए उनकी सजा कम कर दी थी। शीर्ष अदालत ने नरोदा दंगे समेत गोधरा काण्ड के बाद हुए दंगों की जांच के लिए SIT का गठन किया था। यह टीम गोधरा काण्ड के बाद हुए दंगे नौ महत्वपूर्ण मामलों की जांच कर रही है। यह टीम उस नरोदा जैम केस की भी जांच कर रही है जिसमें 11 लोग मारे गए थे। 2011 में 31 लोग दोषी पाए गए, इनमें से 11 को सजा-ए-मौत सुनाई गई थी।

एसआईटी की कहानी

  • 26 मार्च 2008 को सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी के गठन का आदेश दिया था
  • इस टीम के मुखिया आरके राघवन के अलावा जांच दल में पूर्व पुलिस महानिदेशक सीबी सत्पथी, आईजी शिवानन्द झा, आईजी आशीष भाटिया, आईजी गीता जौहरी थीं।
  • गीता जौहरी इस समय गुजरात की पुलिस महानिदेशक हैं।
  • सत्पथी के जांच दल से हटने के फैसले के बाद सुप्रीम कोर्ट ने 15 मई 2009 को SIT के पुनर्गठन का आदेश दिया और 27 मई को इसका नोटिफिकेशन जारी हुआ
  • इसमें दो नए सदस्य जोड़े गए, ये थे पूर्व पुलिस महानिदेशक और CBI के पूर्व संयुक्त निदेशक परमवीर सिंह और CBI के पूर्व DIG एके मल्होत्रा
  • 2010 में परमवीर सिंह ने इस्तीफा दे दिया था

Comments

Most Popular

To Top