CBI

घूस में सोना : पूर्व प्रधान सचिव व 2 का रिमांड बढ़ा

बीएल-अग्रवाल

नई दिल्ली। दिल्ली की स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने रिश्वतखोरी के मामले में छत्तीसगढ़ सरकार के निलंबित पूर्व प्रधान सचिव बीएल अग्रवाल और दो अन्य आरोपियों की हिरासत तीन मार्च तक और बढ़ा दी है।





इससे पहले सीबीआई ने बीएल अग्रवाल को 21 फरवरी को रायपुर से गिरफ्तार किया था और दिल्ली की सीबीआई कोर्ट में पेश किया था जिसने अग्रवाल समेत दो और आरोपियों को आज तक के लिए हिरासत में भेजा था। उसके बाद 25 फरवरी को कोर्ट ने तीन दिन की हिरासत बढ़ाई थी जो आज खत्म हो रही थी।

आपको बता दें कि 23 फरवरी को इस मामले में गिरफ्तार सैयद बुरहानुद्दीन को पांच दिनों की सीबीआई हिरासत में भेज दिया था। बुरहानुद्दीन ने अपने को प्रधानमंत्री कार्यालय का अधिकारी बताकर अग्रवाल से रिश्वत ली थी।

अग्रवाल 1998 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। सीबीआई ने अग्रवाल के दफ्तर और दूसरे ठिकानों पर छापा मारने के बाद 21 फरवरी को उन्हें गिरफ्तार किया था। सीबीआई ने बीस लाख रुपये और दो किलोग्राम सोना जब्त किया है। अग्रवाल पर आरोप है कि उन्होंने अपने खिलाफ सीबीआई जांच को खत्म करवाने के लिए एक दलाल को रिश्वत दी थी। ये मामला तब का है जब अग्रवाल छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य सचिव थे। सीबीआई ने एक मामले में अग्रवाल के खिलाफ आरोप पत्र दायर कर दिया है जबकि दूसरे में जांच चल रही है।

Comments

Most Popular

To Top